class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कपकोट में यात्री विश्राम गृह देखरेख के अभाव में बदहाल

कपकोट पुल के पास बना विश्राम घर देखरेख के अभाव में बदहाल हो गया है। विश्राम घर के बीचों बीच गड्ढा बन गया है। बैठने वाली बैंच भी टूटने लगी है। इसकी बदहाली से क्षेत्र के लोगों में गहरा रोष है। उन्होंने जल्द विश्राम घर की हालत सुधारने की गुहार लगाई। कपकोट पुल के पास 2014 में जिला पंचायत ने यात्री विश्राम घर का निर्माण कराया गया था, इसके निर्माण का उद्देश्य दूर से आने वाले यात्रियों तथा वाहन का इंतजार करने वालों को सुविधा देना था। दो लाख की लागत से बने इस विश्राम घर की देखरेख का बंदोबस्त नहीं होने से यह बदहाल हो गया है।

यात्री विश्राम घर के बीचोंबीच की लिंटर टूट गई है, जिससे वहां पर गड्ढा बन गया है, जिससे कभी भी यात्रियों के साथ हादसा हो सकता है। व्यापार मंडल अध्यक्ष शेर सिंह ऐठानी, तारा सिंह कपकोटी, मुन्ना सिंह कपकोटी, चंद्र सिंह कोरंगा, राजा शाही, प्रकाश जोशी, महिमन कपकोटी, चंदू कपकोटी आदि ने कहा कि विश्राम घर की बदहाली सरकारी धन का दुरुपयोग है। उन्होंने जल्द विश्राम घर की हालत सुधारने की गुहार लगाई। इधर अपर मुख्य अधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है। जल्द ही विश्राम गृह की मरम्मत कराई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kapkot desecrated in the absence of supervision in passenger relaxation home