class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जल निगम कर्मियों ने तालाबंदी की चेतावनी दी

जल निगम कर्मियों ने तालाबंदी की चेतावनी दी

चतुर्थ श्रेणी पेयजल निगम कर्मचारी पांच सूत्रीय मांगों को लेकर दूसरे दिन शुक्रवार को भी कार्य बहिष्कार पर रहे। उन्होंने मांग पूरी नहीं होने पर आठ दिसम्बर से कार्यालयों पर तालाबंदी करने की चेतावनी दी। आरोप लगाया कि सरकार पेयजल कर्मचारियों के साथ भेदभाव करने में जुटी है। उन्होंने कहा कि मांगों को पूरा करने का आश्वासन देने के बाद भी समस्या जस की तस बनी है।

कर्मचारियों ने पेयजल निगम कार्यालय के बाहर धरना देते हुए सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने पेयजल निगम में वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी के लंबित पदों पर पदोन्नति करने, प्रधान कार्यालय में आठ माह से प्रस्तुत एसीपी की स्वीकृति देने, स्थायीकरण की सूची शीघ्र जारी करने, पेयजल निगम के सभी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति के बाद मिलने वाली सुविधाओं का शत-प्रतिशत लाभ देने की मांग की। इस मौके पर जिलाध्यक्ष प्रकाश चन्द्र पांडेय, माहेश्वरी देवी बालादत्त गड़कोटी, यमन बिष्ट, चनी देवी, रुकमणी जोशी, गोविन्द सिंह महर, संजय बिष्ट, भागीरथी जोशी, जेआर कोहली, बृजेश बल्दिया, पीसी पाण्डेय, बीएम जोशी, जसपाल सिंह बोरा मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Carybhishkar, Water Corporation, protesting, government