class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गीली बगास से भरी ट्रालियों को किसानों ने रोका, हंगामा

गीली बगास से भरी ट्रालियों को किसानों ने रोका, हंगामा

अधिकारियों पर लगाया मिलीभगत का आरोप बाजपुर।

चीनी मिल बॉयलर के लिए गीली बगास को लेने का आरोप लगाते हुए किसानों ने मिल गेट पर हंगामा काट प्रदर्शन किया। अधिकारियों पर मिलीभगत का आरोप लगाते हुए किसानों ने गीली बगास से भरी ट्रालियों को रुकवा दिया।

शुक्रवार को चीनी मिल के गन्ना यार्ड गेट पर किसानों ने बगास से भरी आधा दर्जन ट्रॉलियों को रुकवा दिया। किसानों का आरोप था कि अधिकारियों की मिलीभगत से कुछ लोग जानबूझकर बगास को गीला कर बॉयलर के लिये भेज रहे हैं। बगास गीली होने से बॉयलर गर्म नहीं हो पा रहा है। जिससे मिल को आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। वहीं गन्ना लेकर आए किसानों को भी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। गुस्साए किसानों ने चीफ इंजीनियर की गैरमौजूदगी में बॉयलर इंचार्ज एके श्रीवास्तव का घेराव कर सूखी बगास को ही लेने की बात कही। प्रदर्शन करने वालों में हुकुम सिंह, अमनदीप सिंह, कुलवंत सिंह, सोमी, गुलाम नवी, दिलीप चंद, सुमेर लाल, नत्था राम, सुनील डोगरा, सुरेंद्र शर्मा आदि थे।

बॉयलर में प्रयुक्त होने वाली बगास में यदि गीलापन है तो चीनी मिल इसे प्रयोग में नहीं लाएगी। इस संबंध में अधिकारियों को भी सूचित किया जा चुका है कि गीली बगास को किसी भी सूरत में न लिया जाए।

राहुल कुमार गोयल, जीएम चीनी मिल बाजपुर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गीली बगास से भरी ट्रालियों को किसानों ने रोका, हंगामा