class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बॉर्डर से गिरफ्तार नसीर हिजबुल मुजाहिदीन का ट्रेंड आतंकी, कमांडर का भी है करीबी

सोनौली से गिरफ्तार संदिग्ध हिज्बुल आतंकी को दिल्ली ले गई एटीएस

शनिवार को नेपाल बॉर्डर पर पकड़ा गया नसीर अहमद वानी हिजबुल मुजाहिदीन का ट्रेंड आतंकी निकला। वह हिजबुल कमांडर सैयद सलाहुद्दीन का करीबी भी है। पुलिस और एसएसबी की पूछताछ में उसकी असलियत तो खुली ही, उसने कई राज भी उगले। वह भारतीय सेना के खिलाफ पत्थरबाजों को भड़काने की योजना पर काम करने के लिए कश्मीर जा रहा था। पुलिस ने उसे रविवार को सीजेएम कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। इस मामले की जांच अब एटीएस करेगी। 

 एसपी प्रमोद कुमार ने रविवार को मीडिया से बातचीत में बताया कि नसीर है तो हिजबुल से जुड़ा लेकिन उसके पाकिस्तान आर्मी और आईएसआई से भी सम्पर्क हैं। नसीर ने पूछताछ में बताया कि कश्मीरी मूल के आतंकियों को नेपाल और बांगलादेश के रास्ते भारत भेजा जा रहा है। पाकिस्तानी सेना और आईएसआई उनकी खुलकर मदद कर रही है। नसीर ने बताया कि पीओके (पाक अधिकृत कश्मीर) के आतंकी प्रशिक्षण कैम्पों में उसके जैसे दो हजार ट्रेंड लोग घुसपैठ के लिए तैयार बैठे हैं। 

नसीर 2002 में कश्मीर में आतंकियों के सम्पर्क में आया। बनिहाल में लैंड माइन्स के जरिए उसने सेना के दो जवानों समेत चार लोगों को उड़ाया भी था। 2003 में पीओके चला गया जहां हिजबुल चीफ सलाहुद्दीन के सम्पर्क में आया। ट्रेनिंग के दौरान वह उसका करीबी बन गया। उसी के कहने पर मिशन कश्मीर के तहत नेपाल के रास्ते कश्मीर जा रहा था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Suspected Hizb militants arrested from Sonauli, took ATS to Delhi