रविवार, 19 अप्रैल, 2015 | 00:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
निराशावाद हर जगह : विवेक ओबेराय
मुम्बई, एजेंसी First Published:01-12-12 07:04 PM
Image Loading

विभिन्न सामाजिक कार्यो से जुड़े रहे अभिनेता विवेक ओबेराय का मानना है कि आज निराशावाद हर किसी के जीवन का हिस्सा हो चुका है।

36 वर्षीय अभिनेता ने यहां शुक्रवार को एक पुस्तक 'प्राइड ऑफ लायंस' के विमोचन पर कहा, ''यह (पुस्तक) निराशावाद के मुद्दे पर है। दुर्भाग्य से यह काफी तेजी से फैल रहा है। आज बच्चों, दूरदर्शन वाचक, समाचार चैनल, मशहूर हस्ती, रेडियो प्रस्तोता हर किसी के जीवन में निराशा विद्यमान है।''

पुस्तक के लेखक हैं कैप्टन विनोद शंकर नायर और यह एक भारतीय सैनिक के जीवन पर आधारित है।

उन्होंने कहा, ''हमने आशावाद खो दिया है। हमें उम्मीद की किरण चाहिए। हमें कुछ शुद्ध कुछ निस्वार्थी, साहसिक चाहिए, जो हमें प्रेरित कर सके, ऊपर देखने के लिए, आगे देखने के लिए, उम्मीद के साथ देखने के लिए।''

 
 
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
जरूर पढ़ें
Image Loadingरसेल ने दिलाई केकेआर को किंग्स इलेवन पर जीत
आंद्रे रसेल ने दो महत्वपूर्ण विकेट लिए, दो खूबसूरत कैच लपके और मुश्किल परिस्थितियों में आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करके नाबाद अर्धशतक जमाया जिससे मौजूदा चैंपियन कोलकाता नाइटराइडर्स ने आईपीएल आठ के मैच में खराब शुरुआत के बावजूद किंग्स इलेवन पंजाब को 13 गेंद शेष रहते हुए चार विकेट से हराया।