शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 08:51 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पूर्व रॉ प्रमुख का खुलासा: खुफिया एजेंसी कश्मीर में आतंकियों को देती है पैसा वैज्ञानिकों ने खोला कम और अधिक आयु का राज, आप भी जान लीजिए यूपी में 'चुड़ैल का वीडियो' हुआ वायरल, पुलिस ढूंढ रही 'चुड़ैल' को 'उधर हेमा को अस्पताल ले गए, इधर मेरी बेटी ने अपनी मां की गोद में दम तोड़ दिया' फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत
उम्र के मुताबिक भूमिका की खोज में हैं पूजा
मुम्बई, एजेंसी First Published:26-12-12 02:29 PM
Image Loading

पूजा भट्ट को बड़े पर्दे पर दिखे एक दशक बीत चुके हैं। वह कहती हैं कि अपनी उम्र के मुताबिक भूमिका पाने पर वह जरूर फिर से पर्दे पर दिखने की इच्छा रखती हैं।

पूरा ने वर्ष 1998 में ‘तमन्ना’ के साथ बतौर निर्माता नई पारी की शुरुआत की थी और फिर 2003 में फिल्म ‘पाप’ के साथ निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखा था।

पूजा ने कहा कि मैं अपनी उम्र के मुताबिक भूमिका चाहती हूं। मुझे 40 साल का होने पर गर्व है क्योंकि इस उम्र में मैंने अपनी आत्मा को पवित्र बनाए रखा है। मैं नहीं समझती कि बहुत सारे लोगों ने अपने व्यवसाय में इस तरह की सफलता हासिल की है।

‘‘ऐसे में अगर कोई मुझे मेरी उम्र के मुताबिक भूमिका देगा तो मैं उसे जरूर स्वीकार करूंगी। मैं भूमिका पाने के लिए खुद को उम्र से कम दिखाने की खातिर कोई कदम नहीं उठाना चाहती।’’

पूजा ने 1990 के दशक में कई फिल्मों में काम किया था। उनकी प्रमुख फिल्मों में ‘दिल है कि मानता नहीं’, ‘सर’, ‘बॉर्डर’, ‘जख्म’ शामिल हैं।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड