शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 10:32 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    जूलियन से झमाझम बारिश, फिर भी उत्तर पश्चिम भारत में पड़ेगा सूखा लखपति, करोड़पति, कारों से चलने वाले भी बन गए EWS, जानिए कैसे पूर्व रॉ प्रमुख का खुलासा: खुफिया एजेंसी कश्मीर में आतंकियों को देती है पैसा वैज्ञानिकों ने खोला कम और अधिक आयु का राज, आप भी जान लीजिए यूपी में 'चुड़ैल का वीडियो' हुआ वायरल, पुलिस ढूंढ रही 'चुड़ैल' को 'उधर हेमा को अस्पताल ले गए, इधर मेरी बेटी ने अपनी मां की गोद में दम तोड़ दिया' 'गुड्डू रंगीला' देखने जा रहे हैं? पहले रिव्यू तो पढ़ लीजिए फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या
क्षेत्रीय सिनेमा में काम कर सहज महसूस करती हैं नीतू
पणजी, एजेंसी First Published:27-11-12 04:25 PM
Image Loading

लगभग एक साल से अधिक समय से हिन्दी फिल्मों में नजर नहीं आने वाली अभिनेत्री नीतू चन्द्रा ने कहा है कि वह क्षेत्रीय सिनेमा में काम कर के खुश हैं क्योंकि इसमें अधिक गुणवत्ता और सामग्री मिलती है।
   
अभिनेत्री नीतू ने बॉलीवुड की फिल्मों जैसे 'गरम मसाला', 'ओए लकी लकी ओए' और 'ट्रैफिक सिग्नल' में काम किया है। उनकी अंतिम प्रदर्शित फिल्म 'कुछ लव जैसा' बॉक्स ऑफिस पर बेहतर प्रदर्शन नहीं कर सकी थी।
   
नीतू तमिल और तेलगू सिनेमा में भी काम कर रही है। इसके अलावा वह होम स्वीट होम शीर्षक वाली यूनानी फिल्म में काम कर रही हैं।
   
नीतू ने बताया कि छह साल के दौरान मैनें अच्छी फिल्मों में काम किया है और मैं गिनती पर ध्यान नहीं देती। गैर फिल्मी पृष्ठभूमि से आने वाले लोगों को बार-बार मौका नहीं मिलता है। ऐसे में मैं अपनी पसंद को लेकर सावधान रहता हूं। आज क्षेत्रीय सिनेमा में और अधिक सामग्री मिलती है।
   
43वें अंतरराष्ट्रीय भारतीय फिल्मोत्सव से इतर चंद्रा ने बताया कि वह एक तमिल और यूनानी फिल्म में काम कर रही हैं। इन फिल्मों में काम करके वह खुश हैं। मैं ऐसा व्यवसायिक सिनेमा नहीं कर सकती जिसमें मुझे पूरा संतोष भी नहीं मिले।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड