गुरुवार, 24 अप्रैल, 2014 | 08:55 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    'हिन्दुस्तान' का 'वोट की चोट' कार्यक्रम, धनबाद में कैंडल-मार्च आईपीएल-7 : कोहली, गंभीर आज होंगे आमने-सामने अफ्रीका में ट्रेन दुर्घटना में 60 मरे मतदान लाइव: जमीं पर उतरे फिल्मी दुनिया के सितारे...वोट डाला केजरीवाल के इस्तीफे ने पार्टी की संभावना धूमिल की: सिसोदिया मोदी के पाकिस्तान संबंधी टिप्पणी से उत्साहित हैं पाक उच्चायुक्त आयोग ने आजम खान को फिर भेजा कारण बताओ नोटिस गिरफ्तारी वारंट के बाद राजद सांसद प्रभुनाथ सिंह लापता पीसीएस-14 के 300 पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन शुरू मोदी रोड शो के बाद करेंगे वाराणसी में नामांकन दाखिल
 
नसीरुद्दीन शाह ने बंटोरी पाक दर्शकों की प्रशंसा
लाहौर, एजेंसी
First Published:02-12-12 04:12 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने पाकिस्तान के लाहौर में इस्मत चुगतई की लघुकथा पर आधारित अपने अभिनय की दर्शकों की ओर से तालियों बजाकर प्रशंसा किये जाने के बाद कहा कि इस नाटक में उनका अभिनय उनके करियर का सबसे यादगार प्रदर्शन है।
      
नसीरुद्दीन ने शनिवार रात चुगतई की लघु कथा घरवाली पर आधारित नाटक में अभिनय के बाद कहा कि आज रात का मेरा अभिनय मेरे जीवन का यादगार प्रदर्शन है। नाटक जानेमाने कार्यक्रम इस्मत आपा के नाम हिस्सा था जिसे शायर फैज अहमद फैज को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए आयोजित किया गया।
      
नसीरुद्दीन ने यह प्रस्तुति आलमआरा कला परिषद में अपनी पत्नी रत्ना पाठक शाह और पुत्री हिबा शाह के साथ दी। उन्होंने कहा कि मैंने अपने पूरे जीवन में कई थिएटरों और फिल्मों में काम किया लेकिन जो प्यार और प्रशंसा मुझे लाहौरवासियों से मिली उसे मैंने विश्व में कहीं भी अनुभव नहीं किया।
      
शाह परिवार ने चुगतई की लघु कथाओं छुई मुई, मुगल बच्चा और घरवाली में अभिनय किया। इनका निर्देशन अभिनेता नसीरुद्दीन की ओर से किया गया। तीनों ने चुगतई के लेखन की क्रांतिकारी शैली को अच्छी तरह से प्रस्तुत किया जिसके लिए उन्हें दर्शकों की खूब प्रशंसा मिली।

फैज अहमद फैज और विख्यात लेखक इस्मत चुगतई (1915-1991) के प्रशंसकों के साथ ही जीवन के सभी क्षेत्रों के लोगों ने नसीर के इस अभिनय का आंनद उठाया। तीनों ही कहानियां अलग-अलग तरह की थीं लेकिन वे सभी महिलाओं के मुद्दों और महिलाओं के प्रति पुरुष प्रधान समाज के व्यवहार से संबंधित थी।
     
काले रंग की शेरवानी और सफेद पायजामा पहने नसीरुद्दीन ने नाटकों का संक्षिप्त परिचय पेश किया। उन्होंने कहा कि मैं यह नाटक उपमहाद्वीप के महान लेखकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने तथा नई पीढ़ी को उनके शानदार लेखनी से परिचित कराने के लिए कर रहा हूं।
     
उन्होंने कहा कि तीनों कहानियों को नाटक का रूप देते हुए एक भी शब्द बदला नहीं गया है। उन्होंने इस बात के लिए खेद जताया कि चुगतई की रचनाओं का कई भाषाओं में अनुवाद किया गया लेकिन उनके अपने देश में उनकी भूमिका हाशिए पर रही।
     
उन्होंने कहा कि यहां पर लोगों के बीच उनकी एकमात्र कहानी लिहाफ लोकप्रिय है जिसे आक्रामक माना जाता है।

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
Image Loadingमतदान लाइव: जमीं पर उतरे फिल्मी दुनिया के सितारे...वोट डाला
लोकसभा चुनाव के छठे दौर में आज 117 सीटों पर मतदान हो रहा है। लोकसभा चुनाव के इस दौर में असम, बिहार, छत्तीसगढ़, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, पुड्डुचेरी, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तरप्रदेश और पश्चिम बंगाल में वोट डाले जा रहे हैं।
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
आंशिक बादलसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 06:47 AM
 : 06:20 PM
 : 68 %
अधिकतम
तापमान
20°
.
|
न्यूनतम
तापमान
13°