शुक्रवार, 03 जुलाई, 2015 | 21:08 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत हेमा मालिनी के ड्राइवर को कुछ ही घंटों में मिली जमानत, बच्ची की मौत से हेमा दुखी झारखंड के चाईबासा में रिश्वत लेते दारोगा रंगे हाथ गिरफ्तार झारखंड: हजारीबाग में पिता ने अबोध बेटी को पटक कर मार डाला जमशेदपुर में स्कूल वाहन चालक हड़ताल पर, अभिभावक परेशान
लता ने शुरू की संगीत कम्पनी
मुम्बई, एजेंसी First Published:28-11-12 03:33 PM
Image Loading

सुर साम्राज्ञी गायिका लता मंगेशकर ने ‘एल.एम म्यूजिक’ नाम से अपनी संगीत कम्पनी शुरू की है और इसका पहला एलबम भजन पर आधारित है। इस एलबम को लता और उनकी बहन ऊषा ने अपनी आवाज दी है।

इन दोनों ने इससे पहले 1950-60 के गाने ‘अपलम चपलम’ (आजाद), ‘किस कारण कामिनी शर्माए’ (चंदन का पालना) और ‘बहे जाए ना रानी’ (सबसे बड़ा रुपैया) के लिए साथ-साथ गाया था।

यह एलबम अकालकोट के स्वामी समर्थ को समर्पित है।

लता ने कहा कि ऊषा के साथ गाना हमेशा मजेदार रहता है। वह अपने आप में एक अच्छी गायिका हैं। हम दोनों आकालकोट के परम पूजनीय संत स्वामी समर्थ के विशेष उत्सव की गम्भीरता को देखते हुए दोबारा साथ आए हैं।

इस एलबम का संगीत संगीतकार मयुरेश पाई ने दिया है। इसे अल्बम 18 नवम्बर को एक भव्य आयोजन के बीच जारी किया जाना था लेकिन शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे के निधन की वजह इसे टाल दिया गया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड