रविवार, 01 फरवरी, 2015 | 17:11 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
दिल्ली को आगे बढ़ाना है तो भाजपा को पूर्ण बहुमत दीजिए : मोदीजहां झुग्गी होगी वहीं पक्का मकान बनाएंगे : मोदीशहर में ट्रफिक की समस्या का समाधान किरण बेदी करा देंगी : मोदीगरीबों को गरीब रखकर राजनीति हुई : मोदीचुनाव भी विकास के मु्द्दे पर लड़ता हूं और सरकार भी विकास के मुद्दे पर चलाता हूं : मोदीमेरे पास किताबी ज्ञान नहीं, लोगों की शक्ति की पहचान है : मोदीटीवी में जगह से सरकार नहीं चलती : मोदीयुवा देश का लाभ लेना मुझे आता है : मोदीअगर नसीबवाले से आपका पैसा बचता है तो बदनसीब की क्या जरूरत : मोदीमेरे नसीब से तेल-पेट्रोल सस्ता हुआ तो क्या बुरा है : मोदीआपने जो प्यार दिया अब मुझे वह ब्याज समेत लौटाना है : मोदीआंदोलन की आदत रखने वालों को सिर्फ टीवी में जगह चाहिए : मोदीदिल्ली को जिम्मेवार सरकार चाहिए : मोदीभागने से काम नहीं चलता, सरकार चलाना बड़ी जिम्मेदारी : मोदीरोज विरोधी सुबह उठकर सोचते हैं कि आज कौन सा झूठ फैलाया जाए : मोदीकांग्रेस-आप में झूठ बोलने की होड़ : मोदीकांग्रस-आप ने कुर्सी के लिए सौदा किया : मोदीहम समस्या दूर करने की सोचते हैं : मोदीदिल्ली से पानी का वादा पूरा किया : मोदीदिल्ली के द्वारका में पीएम मोदी ने रैली के दौरान कहा, मैं असली दिल्लीवाला हो गया हूंदिल्ली के द्वारका में पीएम मोदी की रैलीबीजेपी नफरत फैला रही है : सोनियाबीजेपी ने झूठे वादे किए, किसानों के सपने का क्या हुआ, काला धन वापस कहां आया : सोनियाहमने झुग्गीवालों को घर दिये : सोनियादिखावे की राजनीति करने वालों से सतर्क रहने की जरूरत : सोनियाबिहार के फारबिरगंज में काले झंडों के साथ अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों लोगों ने किया प्रदर्शन, फांस की शार्ली एब्दो पत्रिका द्वारा पैगंबर मोहम्मद साहब का कार्टून छापने के विरोध में किया प्रदर्शन।
हर किरदार के लिए प्रतिभा जरूरी: दीपिका
मुंबई, एजेंसी First Published:10-12-12 06:09 PM
Image Loading

बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने चमक-दमक वाले किरदारों के साथ-साथ सीधे-सादे दिखने वाले किरदार भी किए हैं, लेकिन उन्हें लोगों की यह बात बुरी लगती है जब वे मानते हैं कि चमक-दमक भरे किरदार के लिए कड़ी मेहनत की आवश्यकता नहीं पड़ती।

दीपिका ने कहा कि मुझे यह किरदार काफी महत्वपूर्ण लगता है। यह  गलत धारणा है कि चमक-दमक भरे किरदार के लिए प्रतिभा की जरूरत नहीं होती। यह बेहद अजीब बात है, क्योंकि अंतत: किसी भी तरह के किरदार चाहे वह चमक-दमक वाले हों या न हों इसमें अभिनय की जरूरत होती है। अभिनय अभिनय होता है।

उन्होंने कहा कि जैसे कि लोगों को लगता है कि मैंने 'कॉकटेल' के वेरोनिका के किरदार के लिए अच्छा अभिनय किया, लेकिन यह चमक-दमक भरा किरदार भी था। लेकिन मेरे लिए फिल्म और किरदार जरूरी है न कि चमक-दमक।

26 वर्षीय दीपिका ने फिल्म 'ओम शांति ओम' से बॉलीवुड में कदम रखा था और उसके बाद वह 'बचना ए हसीनो', 'हाउसफुल', 'लव आज कल' और 'कॉकटेल' जैसी सफल फिल्मों का हिस्सा रही हैं। दीपिका के लिए न सिर्फ उनकी भूमिका की सराहना किया जाना पसंद है बल्कि बॉक्स आफिस पर फिल्म का प्रदर्शन भी उनके लिए मायने रखता है।

उन्होंने कहा कि जब आप एक फिल्म करने के बारे फैसला करते हैं, तो आप यह उम्मीद करते हैं कि आपके अभिनय की सराहना होने के साथ-साथ फिल्म का प्रदर्शन भी अच्छा हो। भाग्यवश 'कॉकटेल' से मुझे दोनों चीजें मिली। फिल्म ने अच्छा कारोबार किया और अभिनय की भी सराहना की गई। मुझे उम्मीद है कि यह मेरे पूरे करियर में होगा।

पूर्व मॉडल दीपिका फिल्मों के अलावा कई ब्रांड के विज्ञापन में भी काम कर रही हैं और वह जल्द ही 'गार्नियर' की नई श्रृंखला के विज्ञापन अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा के साथ नजर आएंगी।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड