मंगलवार, 26 मई, 2015 | 15:13 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    इस रेस्टोरेंट में आने वालों को बनना पड़ता है कैदी प्रतापगढ़ में रोडवेज के कैशियर की हत्या कर साढ़े सात लाख की लूट  सलमान को दुबई जाने के लिए कोर्ट से मिली अनुमति वसीम रिजवी शिया वक्फ बोर्ड के फिर चेयरमैन साहित्यिक चोरी के आरोप में 'पीके' के निर्माताओं को नोटिस 9 अधिकारियों के तबादले के बाद एलजी से मिले केजरीवाल  कांग्रेस के दस साल पर भारी भाजपा का एक साल: स्मृति पूरी दुनिया कर रही है हरमन की तारीफ, कहानी जान कर आप भी करेंगे इशारों में बोले अमित शाह: 370 सीटें दो, तभी बन पाएगा राम मंदिर 2जी: बैजल ने कहा, मनमोहन भी घोटाले के लिए जिम्मेदार
जान बूझ कर ‘तलाश’ का फीका प्रचार
मुम्बई, एजेंसी First Published:27-11-12 04:46 PMLast Updated:27-11-12 05:26 PM
Image Loading

अभिनेता आमिर खान को अपनी फिल्मों के व्यापक और नवीन प्रचार के लिए जाना जाता है, लेकिन उनकी आने वाली फिल्म ‘तलाश’ का प्रचार प्रदर्शित होने के एक सप्ताह पहले तक भी फीका नजर आ रहा है। फिल्म की निर्देशक रीमा कागती का कहना है कि ऐसा जानबूझकर किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि हम ‘जब तक है जान’ और ‘सन ऑफ सरकार’ के बीच फंसे हुए हैं और अगले शुक्रवार ‘खिलाड़ी 786’ प्रदर्शित हो रही है। तीनों फिल्में बहुत अधिक चर्चित हैं। हमारे पास दो विकल्प थे, या तो हम इन फिल्मों से बड़ा प्रचार करें या फिर हम अपने प्रतिद्वंद्धियों से कम प्रचार करें। अधिक प्रचार करना असम्भव था। इसलिए हमने बाद वाला विकल्प चुना।

उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए भी है क्योंकि हम फिल्म का सस्पेंस तोड़े बिना बहुत अधिक नहीं बोल सकते थे। वैसे काफी सारे झूठे एसएमएस के जरिए फिल्म के सस्पेंस को खत्म करने की कोशिश हो रही है। कुछ एसएमएस में दावा किया गया है कि फिल्म में पुलिस अफसर की भूमिका निभा रहे आमिर ही हत्यारे हैं। लेकिन कागती का कहना है कि इन सबसे फिल्म पर कोई असर नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि मुझे चिंता तब होती, अगर ये झूठे एसएमएस थोड़ा भी सच्चाई के करीब होते। लेकिन ये असल कहानी से बहुत दूर हैं। इसलिए मैं वास्तव में परेशान नहीं हूं। ‘तलाश’ में रानी मुखर्जी और करीना कपूर भी महत्वपूर्ण भूमिका में नजर आएंगी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड