गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 02:40 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी बलात्कार मामलों में कोई समझौता नहीं, औरत का शरीर उसके लिए मंदिर के समान होता है: सुप्रीम कोर्ट अब यूपी पुलिस 'चुड़ैल' को ढूंढेगी, जानिए क्या है पूरा मामला  खुलासा: एक रुपया तैयार करने का खर्च एक रुपये 14 पैसे दार्जिलिंग: भूस्‍खलन के कारण 38 लोगों की मौत, पीएम ने जताया शोक, 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान यूनान ने किया डिफॉल्ट, नहीं चुकाया अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष का कर्ज विकी‍पीडिया पर नेहरू को मुस्लिम बताये जाने पर भड़की कांग्रेस, पूछा अब क्या कार्रवाई करेगी मोदी सरकार PHOTO: जब मंत्रीजी ने पकड़ी लेडी डॉक्टर की कॉलर और बोले... ललित मोदी के ट्वीट पर बवाल, भाजपा नहीं करेगी वरुण गांधी का बचाव
विशाल भारद्वाज और गुलजार फिर एक साथ
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:07-01-13 07:12 PM
Image Loading

निर्देशक विशाल भारद्वाज और गीतकार गुलजार अपनी फिल्म 'मटरू की बिजली का मंडोला' के जरिये एक बार फिर साथ आए हैं। गुलजार ने इस बार लूटनेवाले गीत के माध्यम से भूमि अधिग्रहण के मुद्दे को उठाया है।

भारद्वाज और गुलजार इससे पहले सात खून माफ, कमीने, इश्किया और ओंकारा जैसी फिल्मों में एक साथ काम कर चुके हैं। इन फिल्मों के लिए गुलजार ने बीड़ी जलइले और दिल तो बच्चा है जी जैसे गीत लिखे हैं।

इस बार भारद्वाज और गुलजार ने नये गीत के जरिये किसानों की दुर्दशा को संबोधित किया है। इस फिल्म की कहानी हरियाणा के एक गांव की पृष्ठिभूमि पर आधारित है। इस गीत के बोल इस प्रकार हैं, पानी पानी कुआं संभल, डोल डोल डोल डोल..पानी पानी कुआं संभल...जिसका माटी उसका माल। जिसकी खेती उसकी जमीन है..रे बाबाजी की धौंस नहीं है।...हट लूटनेवाले हट हट लूटनेवाले।

आगामी फिल्म मटरू.. कामेडी फिल्म है जिसमें इमरान खान, अनुष्का शर्मा और पंकज कपूर जैसे कलाकारों ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं। यह फिल्म 11 जनवरी को रिलीज होगी।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड