शनिवार, 31 जनवरी, 2015 | 03:03 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
फतुहा में बिजली की तार की चपेट में ट्रॉली आई, दो की मौतअमिता को पीजीआई लखनऊ भेजा गया था महिला के खून का नमूना, जांच में स्वाइन फ्लू की पुष्टिबरेली में स्वाइन फ्लू से पहली मौत की पुष्टि, राममूर्ति मेडिकल कालेज में हुई थी 24 जनवरी को सीबीगंज की अमिता उपाध्याय की मौतपाकिस्तान के शिकारपुर में ब्लास्ट, 20 लोगों की मौतयूपी: लखीमपुर खीरी के मैगलंगज में युवक की हत्या, ट्रैक्टर ट्रॉली पर फेंक दिया शव, गला दबाकर हत्या का आरोपबरेली : इंडियन वैटेनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट (आईवीआरआई) और सेंट्रल एवियन रिसर्च इंस्टीट्यूट (सीएआरआई) में रेबीज का कहर, आवारा कुत्तों के काटने से कई वैज्ञानिक रेबीज की चपेट में, मारे गए कुत्तों के पोस्टमार्टम में रेबीज की पुष्टि
विशाल भारद्वाज और गुलजार फिर एक साथ
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:07-01-13 07:12 PM
Image Loading

निर्देशक विशाल भारद्वाज और गीतकार गुलजार अपनी फिल्म 'मटरू की बिजली का मंडोला' के जरिये एक बार फिर साथ आए हैं। गुलजार ने इस बार लूटनेवाले गीत के माध्यम से भूमि अधिग्रहण के मुद्दे को उठाया है।

भारद्वाज और गुलजार इससे पहले सात खून माफ, कमीने, इश्किया और ओंकारा जैसी फिल्मों में एक साथ काम कर चुके हैं। इन फिल्मों के लिए गुलजार ने बीड़ी जलइले और दिल तो बच्चा है जी जैसे गीत लिखे हैं।

इस बार भारद्वाज और गुलजार ने नये गीत के जरिये किसानों की दुर्दशा को संबोधित किया है। इस फिल्म की कहानी हरियाणा के एक गांव की पृष्ठिभूमि पर आधारित है। इस गीत के बोल इस प्रकार हैं, पानी पानी कुआं संभल, डोल डोल डोल डोल..पानी पानी कुआं संभल...जिसका माटी उसका माल। जिसकी खेती उसकी जमीन है..रे बाबाजी की धौंस नहीं है।...हट लूटनेवाले हट हट लूटनेवाले।

आगामी फिल्म मटरू.. कामेडी फिल्म है जिसमें इमरान खान, अनुष्का शर्मा और पंकज कपूर जैसे कलाकारों ने मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं। यह फिल्म 11 जनवरी को रिलीज होगी।

 

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड