Image Loading shahrukhs support for mohun bagan immersed in debt - Hindustan
गुरुवार, 30 मार्च, 2017 | 00:30 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • संशोधनों के साथ सीजीएसटी बिल लोकसभा में पास
  • जीएसटी से संबंधित सभी चार बिल लोकसभा में पास
  • धर्म नक्षत्र: नवरात्रि, ज्योति, फेंगशुई से जुड़ी 10 खबरें
  • बॉलीवुड मसाला: करण जौहर के बच्चों को मिली हॉस्पिटल से छुट्टी, यहां पढ़ें,...
  • हिन्दुस्तान Jobs: असिस्टेंट इंजीनियर के 54 पद रिक्त, बीटेक पास करें आवेदन
  • योगी बोले, लोग संतों को भीख नहीं देते, मोदी ने मुझे यूपी सौंप दिया, पढ़ें राज्यों...
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े अब तक की देश की बड़ी खबरें
  • योग महोत्सव में बोले सीएम योगी आदित्यनाथ, लोग साधु-संतों को भीख नहीं देते, पीएम...
  • गैजेट-ऑटो अपडेट: पढ़ें आज की टॉप 5 खबरें
  • स्पोर्ट्स अपडेटः ऑस्ट्रेलिया मीडिया ने फिर साधा विराट पर निशाना, कहा...
  • बॉलीवुड मिक्स: कटप्पा ने खुद किया खुलासा, आखिर क्यों बाहुबली को मारा पढ़ें,...
  • आईएसआईएस के दो संदिग्ध कार्यकर्ता दिल्ली अदालत पहुंचे, स्वयं के दोषी होने की दी...
  • जरूर पढ़ें: इस शख्स ने 202 km घूमकर बनाया 'बकरी' का MAP,पढे़ं दिनभर की 10 रोचक खबरें
  • सुप्रीम कोर्ट का आदेश, एक अप्रैल से बीएस-3 मानक को पूरा करने वाले वाहनों की नहीं...
  • टीवी गॉसिप: पढ़ें, इस VIDEO में दिखेगा प्रत्युषा की मौत से पहले का सच!, यहां पढ़ें...
  • स्वाद-खजाना: नवरात्रि व्रत की रेसिपी, जानें कैसे बनाएं स्वादिष्ट पाइनेप्पल...
  • यूपी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी आवास में किया गृह प्रवेश, लखनऊ के 5 कालिदास...
  • लखनऊः लोहिया इंस्टीट्यूट में पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी को देखने पहुंचे...

कर्ज में डूबा देश का सबसे पुराना फुटबॉल क्लब, अब किंग खान का सहारा

नई दिल्ली, स्पोर्ट्स डेस्क First Published:21-03-2017 08:53:15 AMLast Updated:21-03-2017 09:03:13 AM
कर्ज में डूबा देश का सबसे पुराना फुटबॉल क्लब, अब किंग खान का सहारा

भारत के सबसे पुराने क्लब मोहन बागान को कर्ज और संकट से उबारने के लिए बॉलीवुड स्टार शाहरुख खान हाथ बढ़ा सकते हैं। बीते कई सालों से बागान की स्थिति बदतर होती जा रही है। कारोबारी और क्लब में अंशधारक विजय माल्या की ओर से कोई मदद नहीं मिल पाने के कारण फुटबॉल क्लब ने नई राह तलाशने का फैसला किया है।

क्लब के शीर्ष प्रबंधन को लगता है कि उन्हें खराब स्थिति से उबरने के लिए आईएसएल में भागीदारी करनी ही होगी।पर इसमें मोटी रकम की जरूरत पड़ेगी।इसमें उन्होंने शाहरुख की मदद की मांगी। सूत्रों की मानें तो बॉलीवुड में किंग खान के नाम से मशहूर फिल्म स्टार ने रजामंदी जाहिर कर दी है।

माल्या बड़ी अड़चन : मोहन बागान की राह में सबसे बड़ी अड़चन कारोबारी विजय माल्या हैं। माल्या ने 1998 में क्लब की 49.99 हिस्सेदारी खरीदी थी। तब उन्होंने क्लब की देखरेख यूनाइटेड मोहन बागान फुटबॉल टीम प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी बनाकर क्लब का प्रबंधन संभालने की जिम्मेदारी दी। कई साल तक अच्छा रहा। पर नवंबर 2014 में माल्या की कंपनियों की आपसी उठापटक में क्लब के अधिकार नई कंपनी डिएगो के पास चले गए, जिसे फुटबॉल में कोई दिलचस्पी नहीं थी।

बास्केटबॉल की इस महिला खिलाड़ी को हिजाब पहनने पर निकाला

कर्ज में डूबे : नई कंपनी की बेरुखी से मोहन बागान के लिए संकट पैदा हो गया। पिछले वित्तीय वर्ष में क्लब का घाटा बढ़कर 1.12 करोड़ पहुंच गया। यह उसके पिछले निम्नतम स्तर 24.52 लाख से कई गुना ज्यादा था। क्लब की न्यूनतम जरूरतों को पूरा करने के लिए बागान के प्रबंधकों को तीन करोड़ का कर्ज उठाना पड़ा।

दिक्कतें और भी : मोहन बागान के महासचिव अंजन मित्र ने कहा कि वे क्लब को उबारने के लिए हर जगह हाथ पांव मार रहे हैं। शाहरुख की कंपनी के अलावा उनकी कई जगह बात हो रही है। आईपीएल टीम कोलकाता नाइटराइडर्स के मालिक शाहरुख को कोलकाता के खेलों में खास दिलचस्पी है। वह पश्चिम बंगाल राज्य के ब्रांड एंबेसडर भी हैं। यही क्लब की उम्मीद की सबसे बड़ी वजह भी है। पर यदि माल्या ने शेयर देने से इनकार कर दिया तो बागान के सामने अस्तित्व का संकट गहरा जाएगा।

एतिहासिक
127 साल पुराना है देश का पहला फुटबॉल क्लब
1889 में भूपेंद्र नाथ बोस ने स्थापना की
284सबसे ज्यादा कुल खिताब मोहन बागान के नाम

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: shahrukhs support for mohun bagan immersed in debt
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड