class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'लाली की शादी में लड्डू दीवाना' इस लाली की शादी में ना जाएं तो ठीक

'लाली की शादी में लड्डू दीवाना' इस लाली की शादी में ना जाएं तो ठीक

‘लाली की शादी में लड्डू दीवाना।’ जब नाम इतना चाशनी में घुला हुआ है तो फिल्म कैसी होगी? पर नाम पर मत जाइए, याद रखिए कि शादी का लड्डू खाने में पछताने का रिस्क भी होता है, फिर चाहे वह किसी की भी शादी क्यों न हो। यह उन असंख्य फिल्मों में से एक है, जिन्हें देखते ही उनके डायरेक्टर-प्रोड्यूसर को कुछ इस तरह का वॉट्सएप मेसेज चिपकाने का मन करता है,‘भाई, क्यों बनाई यह फिल्म? एंटरटेनमेंट के नाम पर इतना अत्याचार?’

अब जब हमने इतना अत्याचार सहा है, तो थोड़ा आप भी बर्दाश्त कीजिए। फिल्म की कहानी सुनिये- एक गरीब बाप का बेटा एक लड़की से मिलता है जो देखने-सुनने में अमीर लगती है। कुछ समय बाद लड़के को पता लगता है कि वह तो गरीब है। एक दिन लड़की को भी पता लग ही जाता है कि लड़का भी गरीब ही है। फिर भी वह उसका साथ नहीं छोड़ती। दोनों का प्यार परवान चढ़ता है और लड़की प्रेग्नेंट हो जाती है।

इसी बीच लड़के का ध्यान प्यार से हटकर व्यापार पर आ जाता है और वह कर देता है लड़की से शादी से इंकार। अब एंट्री होती है लड़के के गरीब मां-बाप की जो अपनी (न हो सकी) बहू को बेटी बनाकर अपने साथ ले जाते हैं और पैसे के पीछे पागल बेटे को हमेशा के लिए त्याग देते हैं। इसी बीच एंट्री होती है एक राजकुमार की जो प्रेग्नेंट लड़की से प्यार करने लगता है। क्या होगा इस कहानी का अंजाम? जानने के लिए देखिये यह फिल्म।

अक्षरा हसन फिल्म में खूबसूरत लगी हैं, पर वह अच्छी एक्टिंग करना शायद भूल गईं। कई दृश्यों में उनके चेहरे के भाव नकली से लगते हैं। विवान का गोलमटोल सा चेहरा और थुलथुल सा शरीर उन्हें हीरो के रोल के लिए मिसफिट बनाता है। उन्हें अपनी एक्टिंग और फिटनेस पर ध्यान देना चाहिए और साथ ही फिल्मों के चयन पर भी। मुख्य कलाकारों से बेहतर काम इस फिल्म में साइड कलाकारों ने किया है। फिर चाहे वह सौरभ शुक्ला हों, संजय मिश्रा हों या दर्शन जरीवाला।

रवि किशन इस फिल्म के एक फालतू रोल के लिए राजी कैसे हो गए, यह समझ नहीं आता। कविता वर्मा के लुक और संवाद अदायगी से राखी सावंत की झलक मिलती है। गुरमीत चौधरी परदे पर अच्छे दिखते हैं और इस फिल्म में भी उनका काम एक आईकैंडी से ज्यादा नहीं है। सुखविंदर सिंह की आवाज में फिल्म का टाइटल ट्रैक अच्छा बन पड़ा है।

रेटिंग- 1.5

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:lali ki shaddi mai laddo deewana review
From around the web