class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बद्रीनाथ की दुल्हनिया: ये दूल्हा-दुल्हन तो बहुतै मजेदार हैं, REVIEW

बद्रीनाथ की दुल्हनिया: ये दूल्हा-दुल्हन तो बहुतै मजेदार हैं,  REVIEW

1/3बद्रीनाथ की दुल्हनिया: ये दूल्हा-दुल्हन तो बहुतै मजेदार हैं, REVIEW

जरा इस सीन पर गौर करिये...हीरोइन को कुछ गुंडे छेड़ते हैं। उसके कपड़े अस्त-व्यस्त हो जाते हैं। हीरो उसे बचाने आता है और अपनी जैकेट या स्कार्फ उतार कर उसे ओढ़ा देता है। 

शशांक खेतान निर्देशित फिल्म ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ में भी यह सीन है। फर्क सिर्फ इतना है कि हीरोइन और हीरो की भूमिकाएं आपस में बदल जाती हैं। सिंगापुर की सड़कों पर वहां के कुछ गुंडे वरुण के साथ छेड़छाड़ करते हैं। आलिया कुछ लोगों को साथ आकर वरुण को बचाती हैं और उनके फट चुके कपड़ों पर तरस खाकर अपना स्टोल वरुण को ओढ़ा देती हैं।

अपने इस खास की मौत पर सदमे में आईं श्वेता तिवारी और बेटी पलक

कॉमिक अंदाज में फिल्माया गया यह सीन बड़ी आसानी से फिल्म में सबसे ज्यादा तालियां बटोर ले जाता है। यह सीन ही नहीं, इस फिल्म में ऐसी बहुत सी खूबियां हैं जो इसमें मनोरंजन का तड़का लगाती हैं।

क्यूटनेस के साथ आलिया की एक्टिंग का धमाल

झांसी के रंगबाज मुंडे (वरुण धवन) और कोटा की क्यूट कुड़ी (आलिया भट्ट) का यह धमाल एकदम सही समय पर मचा है। मौका भी है और दस्तूर भी। महिला दिवस अभी-अभी झकझोर कर निकला है और होली दरवाजा खटखटा रही है। ऐसे माहौल में ‘खेलन क्यों न जाए, तू होरी’ जैसे गीतों वाली यह फिल्म लड़कियों के परों को परवाज देने की बात भी कहती है, पर भारीभरकम नहीं, हल्के-फुल्के अंदाज में।

VIDEO: स्वरा भास्कर ने कहा, आरा की अनारकली चरित्रहीन है तो...

अगली स्लाइड में पढ़ें, क्या है आलिया की चाहत

Next
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:alia bhatt varun dhawan badrinath ki dulhania review