सोमवार, 03 अगस्त, 2015 | 22:42 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अगला बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेंगी राबड़ी देवी कांवड़ यात्रा से बरेली के कई पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्‍म  आखिर यूं ही नहीं बनती 'बाहुबली', जानिए 10 बेहद खास राज  भारत से प्रभावित होकर अंग्रेजों ने ब्रिटेन में भी बसा दिया 'पटना'  तृणमूल ने दिखाई कांग्रेस के साथ एकजुटता, लोकसभा की कार्यवाही का पांच दिनों तक करेगी बहिष्कार 14 साल से पाकिस्तान में फंसी भारतीय लड़की को बजरंगी भाईजान की जरूरत श्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान राफेल नडाल ने जीता हैम्बर्ग ओपन खिताब चेल्सी बीते सत्र में ही ईपीएल खिताब का हकदार था: कोम्पेनी साध्वी प्राची को अस्पताल से डिस्चार्ज किए जाने पर हंगामा
बॉलीवुड में तीनों खान के अलावा और भी चमके
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 01:40:17 PMLast Updated:25-12-2012 08:25:10 PM
Image Loading

साल 2012 के बॉलीवुड के चर्चित अभिनेताओं में सलमान खान सबसे आगे रहे, लेकिन उनके प्रतिद्वंद्वी अभिनेताओं शाहरुख खान व आमिर खान ने भी अपनी जगह बनाई। इन तीन खान सितारों के अलावा इस साल इरफान, मनोज बाजपेयी व नवाजुद्दीन सिद्दीकी जैसे अभिनेताओं ने भी अपनी खास पहचान बनाई।

आईएएनएस ने वर्ष 2012 के 10 शीर्ष अभिनेताओं की सूची तैयार की है। इनमें सलमान खान पहले स्थान पर हैं। सलमान ने इस साल दो सफल फिल्में 'एक था टाइगर' और 'दबंग 2' दीं। उन्होंने 'एक था टाइगर' में एक भारतीय जासूस की भूमिका निभाई तो 'दबंग 2' में एक भ्रष्ट लेकिन दयालु पुलिसकर्मी का किरदार किया। दोनों ही फिल्मों को बॉक्स ऑफिस पर अच्छी प्रतिक्रिया मिली।

दूसरे स्थान पर रणबीर कपूर रहे। रणबीर ने 'रॉकस्टार' व 'बर्फी!' दीं। उनकी फिल्मों ने दर्शकों को हंसाया भी और रुलाया भी। अनुराग बसु के निर्देशन में बनी 'बर्फी!' में उन्होंने एक गूंगे-बहरे लड़के मर्फी का किरदार किया है। उनकी दोनों फिल्मों को काफी संख्या में युवा दर्शक मिले।

तीसरे स्थान पर रहे आमिर की रोमांचक फिल्म 'तलाश' को बॉक्स ऑफिस पर मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली। आलोचकों को फिल्म की पटकथा प्रभावशाली नहीं लगी, लेकिन आमिर की एक पुलिसकर्मी की भूमिका दर्शकों को पसंद आई।

शाहरुख खान की यश चोपड़ा के निर्देशन में बनी 'जब तक है जान' बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल नहीं कर सकी। इसे दर्शकों की मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली और आलोचकों को शाहरुख की एक प्रेमी लड़के की भूमिका में कोई दम नहीं दिखा।

अक्षय कुमार की इस साल छह फिल्में 'हाउसफुल 2', 'राउडी राठौर', 'जोकर', 'ओह माई गॉड' व 'खिलाड़ी 786' प्रदर्शित हुईं। अक्षय अभिनीत सभी फिल्में तो सफल नहीं रहीं, लेकिन कुछ फिल्मों ने 100 करोड़ रुपये के क्लब में जगह बनाई।

अजय देवगन ने 'बोल बच्चन' और 'सन ऑफ सरदार' फिल्में दीं। 'बोल बच्चन' में अजय के किरदार के अंग्रेजी प्रेम ने दर्शकों को खूब गुदगुदाया। 'सन ऑफ सरदार' में उनकी एक सरदार की भूमिका को भी काफी पसंद किया गया।

'पान सिंह तोमर' में अभिनय के लिए इरफान को न केवल दर्शकों का प्यार मिला बल्कि आलोचकों की भी प्रशंसा मिली। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर भी अच्छा व्यवसाय किया।

मनोज बाजपेयी ने 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' व 'चटगांव' फिल्में दीं। उनकी दोनों ही फिल्मों में उनके अभिनय को सराहना मिली।

नवाजुद्दीन सिद्दिकी को भी 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' में अभिनय के लिए प्रशंसा मिली। 'कहानी' व 'तलाश' में भी उनके अभिनय को सराहा गया।

संजय दत्त ने 'अग्निपथ' में जहां खलनायक कांचा चीना का किरदार किया, वहीं 'सन ऑफ सरदार' के अपने किरदार से दर्शकों को खूब हंसाया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?