मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 13:25 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
कार्मिक मंत्रालय ने सोमवार देर 20 संयुक्त सचिवों तथा 15 अतिरिक्त सचिवों के तलाबदले और नियुक्तियां की, गृह मंत्रालय से अतिरिक्त सचिव उप्र कैडर के अनंत कुमार सिंह को पेट्रोलियम मंत्रालय भेजा गया।झारखंड: मेदिनीनगर के हमीदगंज मुहल्ले में मंगलवार सुबह ठेकेदार योगेंद्र तिवारी के घर पर अज्ञात अपराधियों ने फायरिंग की, फायरिंग की वजह की जानकारी नहीं मिली है, पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।झारखंड: गढ़वा जिले के रंका थाना क्षेत्र के गोदरमाना में सोमवार देर शाम बिजली गिरने से पति-पत्नी की मौत।MODI LIVE: पूर्णिया से भागलपुर के लिए प्रधानमंत्री मोदी रवाना
बॉलीवुड में तीनों खान के अलावा और भी चमके
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:25-12-2012 01:40:17 PMLast Updated:25-12-2012 08:25:10 PM
Image Loading

साल 2012 के बॉलीवुड के चर्चित अभिनेताओं में सलमान खान सबसे आगे रहे, लेकिन उनके प्रतिद्वंद्वी अभिनेताओं शाहरुख खान व आमिर खान ने भी अपनी जगह बनाई। इन तीन खान सितारों के अलावा इस साल इरफान, मनोज बाजपेयी व नवाजुद्दीन सिद्दीकी जैसे अभिनेताओं ने भी अपनी खास पहचान बनाई।

आईएएनएस ने वर्ष 2012 के 10 शीर्ष अभिनेताओं की सूची तैयार की है। इनमें सलमान खान पहले स्थान पर हैं। सलमान ने इस साल दो सफल फिल्में 'एक था टाइगर' और 'दबंग 2' दीं। उन्होंने 'एक था टाइगर' में एक भारतीय जासूस की भूमिका निभाई तो 'दबंग 2' में एक भ्रष्ट लेकिन दयालु पुलिसकर्मी का किरदार किया। दोनों ही फिल्मों को बॉक्स ऑफिस पर अच्छी प्रतिक्रिया मिली।

दूसरे स्थान पर रणबीर कपूर रहे। रणबीर ने 'रॉकस्टार' व 'बर्फी!' दीं। उनकी फिल्मों ने दर्शकों को हंसाया भी और रुलाया भी। अनुराग बसु के निर्देशन में बनी 'बर्फी!' में उन्होंने एक गूंगे-बहरे लड़के मर्फी का किरदार किया है। उनकी दोनों फिल्मों को काफी संख्या में युवा दर्शक मिले।

तीसरे स्थान पर रहे आमिर की रोमांचक फिल्म 'तलाश' को बॉक्स ऑफिस पर मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली। आलोचकों को फिल्म की पटकथा प्रभावशाली नहीं लगी, लेकिन आमिर की एक पुलिसकर्मी की भूमिका दर्शकों को पसंद आई।

शाहरुख खान की यश चोपड़ा के निर्देशन में बनी 'जब तक है जान' बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल नहीं कर सकी। इसे दर्शकों की मिलीजुली प्रतिक्रिया मिली और आलोचकों को शाहरुख की एक प्रेमी लड़के की भूमिका में कोई दम नहीं दिखा।

अक्षय कुमार की इस साल छह फिल्में 'हाउसफुल 2', 'राउडी राठौर', 'जोकर', 'ओह माई गॉड' व 'खिलाड़ी 786' प्रदर्शित हुईं। अक्षय अभिनीत सभी फिल्में तो सफल नहीं रहीं, लेकिन कुछ फिल्मों ने 100 करोड़ रुपये के क्लब में जगह बनाई।

अजय देवगन ने 'बोल बच्चन' और 'सन ऑफ सरदार' फिल्में दीं। 'बोल बच्चन' में अजय के किरदार के अंग्रेजी प्रेम ने दर्शकों को खूब गुदगुदाया। 'सन ऑफ सरदार' में उनकी एक सरदार की भूमिका को भी काफी पसंद किया गया।

'पान सिंह तोमर' में अभिनय के लिए इरफान को न केवल दर्शकों का प्यार मिला बल्कि आलोचकों की भी प्रशंसा मिली। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर भी अच्छा व्यवसाय किया।

मनोज बाजपेयी ने 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' व 'चटगांव' फिल्में दीं। उनकी दोनों ही फिल्मों में उनके अभिनय को सराहना मिली।

नवाजुद्दीन सिद्दिकी को भी 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' में अभिनय के लिए प्रशंसा मिली। 'कहानी' व 'तलाश' में भी उनके अभिनय को सराहा गया।

संजय दत्त ने 'अग्निपथ' में जहां खलनायक कांचा चीना का किरदार किया, वहीं 'सन ऑफ सरदार' के अपने किरदार से दर्शकों को खूब हंसाया।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE : कप्तान एंजेलो मैथ्यूज का अर्धशतक
श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और आखिरी क्रिकेट टेस्ट के पांचवें दिन मंगलवार को भारत जीत के करीब पहुंच गया जब मेजबान के पांच विकेट 134 रन पर गिर गए।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।