गुरुवार, 28 अगस्त, 2014 | 06:33 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
 
एक खुशमिजाज खिलाड़ी की दास्तान
रामचन्द्र गुहा प्रसिद्ध इतिहासकार
First Published:14-12-12 08:04 PM
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ-

दक्षिण अफ्रीका की अपनी पहली यात्रा के दौरान मैं कुछ मित्रों के साथ कैपटाउन से पोर्ट एलिजाबेथ जा रहा था। एक जगह हमारे ड्राइवर ने कहा कि अगर हम लगभग 200 किलोमीटर और सफर करने को तैयार हों, तो वह हमें अफ्रीका के दक्षिणी छोर तक ले जा सकता है, जिसे केप एग्युलास कहते हैं। केप एग्युलास, न कि केप होप वह जगह है, जहां हिंद और अटलांटिक महासागर मिलते हैं। हमने उसकी बात मान ली और फिर हमारे ड्राइवर ने गाड़ी राजमार्ग से एक छोटी सड़क पर उतार ली, जो बहुत आम किस्म के इलाके से गुजरती थी। आखिरकार हम एक छोटे से सुनसान समुद्र तट पर पहुंचे और खामोशी से समुद्र को देखते रहे। एक जहाज दूर क्षितिज पर नजर आया और गायब हो गया।

जब हम वापस कार में आए, तो हमने एक बोर्ड देखा, जिस पर लिखा था- अफ्रीका के दक्षिणी छोर पर स्थित कैफे। हमें यह बात दिलचस्प लगी, क्योंकि यह कैफे एक अनोखी जगह पर था और हम लोग कई घंटे के सफर के बाद भूख से बेहाल थे। जब हम कैफे तक पहुंचे, तो तीन विशालकाय मुस्कुराते हुए गोरे कैफे से बाहर निकले और सड़क पर चलने लगे। वे सचमुच विशालकाय थे। उनकी शानदार मांसपेशियां टी शर्ट से झलक रही थीं। उनकी त्वचा चमकदार गुलाबी थी और उनके चेहरे की मुस्कुराहट बता रही थी कि वे खुशमिजाज तो थे ही, साथ ही उन्होंने खाने का भरपूर आनंद लिया था। हम बड़ी उम्मीद से कैफे में गए थे, लेकिन आखिरकार सिर्फ हमारे ड्राइवर कम गाइड को ही भरपूर भोजन मिल पाया। हम सभी शाकाहारी थे और कैफे में जंगली सूअर और भैंसे के मांस के अलावा कुछ मिलना मुश्किल था। ब्रेड, आलू चिप्स और ठंडी कोक ही हम शाकाहारियों को नसीब हुई।

जब भी मैं जॉक कैलिस को टेलीविजन पर क्रिकेट खेलते देखता हूं, तो मुझे केप एग्युलास की वह यात्रा याद आती है। कैलिस उन्हीं लोगों की तरह लगते हैं, जिन्हें हमने उस कैफे में देखा था, विशाल, चौड़े, खामोश, पर खुशमिजाज। मुझे लगता है कि कैलिस बहुत शांत और खुशमिजाज तबीयत के आदमी हैं। वह कभी अपने विरोधी से तू-तड़ाक नहीं करते, अंपायर के फैसले का विरोध नहीं करते या अपने साथी खिलाड़ी के बारे में कानाफूसी नहीं करते। वह मौजूदा क्रिकेट के सबसे भले खिलाड़ियों में से एक हैं और महानतम खिलाड़ियों में भी उनकी गिनती होगी।

मैं हिंदू हूं, इसलिए मैं शुरू से ही कई नायकों का भक्त बन सका। जब मैं बच्चा था, तभी से मेरे देवताओं में फिरंगी और देसी, दोनों ही शामिल रहे। मुझे जिन चीजों का अफसोस है, उनमें से एक यह है कि मैंने दक्षिण अफ्रीका की टेस्ट टीम को मैदान में अपने सामने खेलते हुए नहीं देखा। मैंने तमाम महान खिलाड़ियों को खेलते हुए देखा है- वसीम, वकार, इमरान, मियांदाद, इंजमाम, लॉयड, कालीचरण, रिचर्डस, ग्रिनिज, रॉबर्ट्स, हॉल्डिंग, मार्शल, लारा, बॉथम, नॉट, गूच, पोंटिंग, वार्न, स्टीव वॉ, बॉर्डर, मैक्ग्रा, गिलक्रिस्ट, मार्टिन क्रो, एंडी फ्लावर। जिन्हें मैंने खेलते हुए नहीं देखा, उनमें एलन डोनाल्ड और जॉक कैलिस हैं, लेकिन अनाम कैमरामैनों की कई पीढ़ियों के शानदार काम की वजह से उन्हें टीवी पर खूब देखा है।

जब कैलिस ने अपना अंतरराष्ट्रीय सफर शुरू किया था, तब वह मुख्यत: ऑफ-साइड के खिलाड़ी थे। मुझे याद है कि जब अपने एक शुरुआती एकदिवसीय मैच में वह चार या पांच विकेट गिरने पर बल्लेबाजी करने आए थे, तब दक्षिण अफ्रीका को आठ ओवर में लगभग 40 रन बनाने थे। उन्होंने प्वाइंट के आगे-पीछे कई बैकफुट ड्राइव खेले और टीम को जिता दिया। कुछ साल बाद मैंने कैलिस को और खतरनाक अंदाज में देखा, जब उन्होंने बांग्लादेश में चैंपियन्स ट्रॉफी में श्रीलंका को हराया था। जंगली सूअर और भैंसे के गोश्त की ताकत तब दिखाई दी, जब उन्होंने महान मुरलीधरन की गेंदों पर पांच छक्के मिडविकेट के ऊपर से उड़ाए। नफासत से प्वाइंट की तरफ मारे हुए ड्राइव और लेग की तरफ ताकतवर प्रहार इन दिनों कैलिस के खेल में कम दिखाई देते हैं। चूंकि उन्हें अब पारी को संभालने का काम दिया गया है, इसलिए वह ज्यादा सुरक्षित शॉट खेलते हैं, लेकिन वह अब भी बहुत प्रतिभाशाली और भरपूर रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। अब वही ऐसे बल्लेबाज दिखते हैं, जो सबसे ज्यादा शतकों का तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।

घर पर अगर मेरा बेटा मेरे साथ क्रिकेट देख रहा हो और कैलिस बल्लेबाजी करने आते हैं, तो हम में से एक जरूर कहता है कि यह आया एमवीपी। यानी सबसे कीमती खिलाड़ी। यह नाम महान गैरी सोबर्स के बाद सबसे ज्यादा कैलिस पर फिट होता है। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने लगभग 13,000 रन बनाए हैं, जिनमें 44 शतक शामिल हैं और इसके अलावा उनके नाम 282 विकेट और 192 कैच भी हैं। जब उन्होंने करियर शुरू किया था, तब वह गेंद को दोनों तरफ जबरदस्त स्विंग कराते थे। मुझे इंग्लैंड की एक सीरीज याद है, जिसमें उन्हें नई बॉल दी जाती थी और एलन डोनल्ड बाद में आते थे। जैसे-जैसे उनकी उम्र बढ़ी और शरीर भारी होता चला गया, कैलिस की गति और स्विंग भी कम हो गई, लेकिन वह एक उपयोगी बॉलर हैं। कैलिस बहुत अच्छे फील्डर भी हैं। वह आमतौर पर सेकेंड स्लिप पर फिल्डिंग करते हैं, जहां गेंद बहुत तेज आती है और अगर गेंदबाज डोनाल्ड, एंटनी या स्टेन हो, तो और तेज हो जाती है। कितनी बार हमने देखा है कि गेंद तेजी से कैलिस की ओर गई। उसकी गति और शक्ति से वह पीछे गिर गए और मुस्कुराते हुए गेंद को हाथ में लिए उठे।

दक्षिण अफ्रीकी टीम 1999 में मेरे शहर में खेल रही थी, तब मैं कहीं बाहर था। पिछले दिनों जब जॉक कैलिस रॉयल चैलेंजर्स के लिए खेल रहे थे, तब मैं स्टेडियम में नहीं गया, क्योंकि मैं टी-20 नहीं देखता। पिछले दो दशक क्रिकेट में तेंदुलकर के दशक कहे जाएंगे, लेकिन कैलिस सबसे कीमती खिलाड़ी बने रहेंगे। शायद कैलिस की स्थिति तेंदुलकर के बरक्स वही है, जो वैली हेमंड की डॉन ब्रेडमैन के बरक्स थी। किसी और दौर में हेमंड को महानतम खिलाड़ी मान लिया जाता, पर वह ब्रेडमैन से ज्यादा उपयोगी खिलाड़ी थे, क्योंकि वह महान स्लिप फील्डर व उपयोगी मध्यम गति गेंदबाज भी थे। अब  जीवन या क्रिकेट में मेरी कम ही आकांक्षाएं बची हैं, उनमें से एक जॉक कैलिस को बेंगलुरु में टेस्ट मैच खेलते देखना है।
(ये लेखक के अपने विचार हैं)

 
 imageloadingई-मेल Image Loadingप्रिंट  टिप्पणियॉ: (0) अ+ अ- share  स्टोरी का मूल्याकंन
 
टिप्पणियाँ
 

लाइवहिन्दुस्तान पर अन्य ख़बरें

आज का मौसम राशिफल
अपना शहर चुने  
धूपसूर्यादय
सूर्यास्त
नमी
 : 05:41 AM
 : 06:55 PM
 : 16 %
अधिकतम
तापमान
43°
.
|
न्यूनतम
तापमान
24°