बुधवार, 05 अगस्त, 2015 | 09:51 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जम्मू श्रीनगर के हाईवे पर बीएसएफ के काफिले पर आतंकी हमला; छह जवान घायलहरदा में दो ट्रेनों के दुर्घटनाग्रस्त होने की घटना की जांच के आदेश दिए गए, रेल सुरक्षा आयुक्त (मध्य जोन) करेंगे जांच।रेल विभाग ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपसे मुआवजा देने की घोषणा की, गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये और मामूली रूप से घायलों को 25-25 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।हेल्पलाइन नंबरः हरदाः 9752460088 वाराणसीः 9794845312, 0542 2504221, मुंबईः 022-5280005 भोपालः 07554061609 बीनाः 075802222 इटारसीः 0758422419200
हारने से इनकार
प्रवीण कुमार First Published:12-12-2012 10:11:50 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

‘मेरे साथ ऐसा नहीं हो सकता’, उन्हें डॉक्टर के शब्दों पर विश्वास नहीं हो रहा था। लेकिन यह सच था, इसलिए स्वीकार करना पड़ा। समस्या दरअसल सच की नहीं, इसका सामना करने की थी। स्वास्थ्य को लेकर कोई मेडिकल रिपोर्ट आपको चौंका दे, ऐसा हो सकता है। अभिनेत्री मनीषा कोइराला भी स्तब्ध रह गईं, जब पता चला कि उन्हें कैंसर है। लेकिन इतने भर से यह मान लेना कि जिंदगी खत्म हो गई, बुजदिली ही है। हारने से इनकार करते हुए उन्होंने कहा कि यह जिंदगी का हिस्सा है। दरअसल, जिंदगी आश्चर्यो से भरी है। यह हमें कभी न कभी जरूर चौंकाती है। मशहूर क्रिकेटर इमरान खान भी तब चौंक गए, जब उन्हें अपनी मां को कैंसर होने का पता चला। लेकिन वह घबराए नहीं। उन्होंने खुद को टूटने नहीं दिया। बाद में उन्होंने बताया कि अल्लाह पर यकीन ने सारे डर खत्म कर दिए। इस तरह का भरोसा आपको हर दुख, संत्रस, चिंता से उबरने में मदद करता है। इस मामले में विकी फोस्टर भी हमारे लिए आदर्श हो सकती हैं। विकी फोस्टर को सात साल की उम्र में कैंसर हो गया था, लेकिन उन्होंने इस पर जीत हासिल की। आज विकी 25 साल की हैं। उन्होंने बायो-मेडिकल साइंस में पीएचडी की है और वह कैंसर के खात्मे से जुड़ी रिसर्च में जुटी हैं। उन्होंने पीएचडी की डिग्री हासिल करते ही कहा, ‘प्यारे कैंसर, मैंने तुम्हें सात साल की उम्र में ही हरा दिया था और आज मैंने कैंसर रिसर्च में अपनी पीएचडी की है, अब क्या कहते हो?’ दरअसल, मन से हारना ही मौत की पहली निशानी है। सच यही है कि जिंदगी एक बॉक्सिंग गेम की तरह है, जहां हार का ऐलान आपके गिरने पर नहीं होता, वह तो आपके वापस उठने से इनकार करने पर होता है। गौर करने पर हम पाते हैं कि दुनिया के लगभग सभी महान लोग इस तरह के बॉक्सिंग खेल के उस्ताद रहे हैं। इस बारे में आप क्या सोचते हैं?

 

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingतेंदुलकर ने मलिंगा की तारीफों के पुल बांधे
तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की तारीफ करते हुए महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने आज कहा कि श्रीलंका का यह क्रिकेटर विश्व स्तरीय गेंदबाज है और उनके साथ इंडियन प्रीमियर लीग में खेलना शानदार अनुभव रहा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

संता बंता और अलार्म

संता बंता से - 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह सुबह मेरी नींद खुल गई।

बंता - क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?

संता - नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।