शनिवार, 01 अगस्त, 2015 | 00:56 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    बिना सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 23 रुपये 50 पैसे हुआ सस्ता, पेट्रोल और डीजल के दाम भी घटे लीबिया में आतंकी संगठन IS के चंगुल से 2 भारतीय रिहा, बाकी 2 को छुड़ाने की कोशिश जारी याकूब के जनाजे में शामिल लोगों को त्रिपुरा के गवर्नर ने बताया आतंकी उपभोक्ताओं को रुलाने लगा प्याज, खुदरा भाव 50 रुपये पहुंचा  कांग्रेस MLA उस्मान मजीद बोले, मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी टाइगर मेमन से कई बार की मुलाकात FTII छात्रों को राहुल गांधी का समर्थन, राहुल ने कहा, अपनी इच्छा छात्रों पर ना थोपे सरकार राज्यसभा में विपक्षी दलों ने किया हंगामा, कार्यवाही हुई बाधित लोकसभा में विपक्ष ने लगाए सरकार के खिलाफ नारे, भाजपा सांसद भी नहीं रहे पीछे हाईकोर्ट के आदेश पर मानसून सत्र में बैठेंगे ये चार विधायक अमेरिकी लड़की के साथ छेड़खानी करने वाला टैक्सी चालक गिरफ्तार
अब देखो. कौन जीतता है हमसे
राजेन्द्र धोड़पकर First Published:05-12-2012 10:26:28 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भारत की क्रिकेट टीम को विश्व क्रिकेट की ऊंचाइयों पर पहुंचाने के लिए एक योजना बनाई है। इस योजना के कुछ बिंदुओं पर अमल शुरू हो गया है और बाकी पर अमल की तैयारी है। इस योजना की मुख्य बात यह थी कि मैदानों में ऐसी पिचें बनाई जाएं, जिन पर स्पिनरों को सहायता मिले। यह योजना आंशिक रूप से सफल रही। इसके आंशिक रूप से विफल होने के निम्न कारण पाए गए।
1. भारतीय स्पिनर गेंद को टर्न नहीं कर पाते।
2. भारतीय विकेट कीपर-कप्तान टर्न होती हुई गेंदों पर विकेट कीपिंग नहीं कर पाते।
3. भारतीय बल्लेबाज स्पिन नहीं खेल पाते।
4. अंग्रेज बल्लेबाज, गेंदबाज, फील्डर और विकेट कीपर हमसे बेहतर हैं। इस समस्या को सुलझाने के लिए निम्नलिखित प्रस्ताव हैं-
पहला, विदेशी टीमों पर यह शर्त लगाई जाए कि भारतीय दौरे पर अपनी टीम में वे स्पिनरों को शामिल नहीं करेंगे।
दूसरा, हर मैच में दो पिचें होंगी, एक में न गेंद तेज होगी, न टर्न होगी, उस पर भारतीय बल्लेबाजी होगी। दूसरी टर्निग पिच होगी, जिस पर विदेशी टीम को खेलना होगा।
तीसरा, विदेशी टीम को प्रैक्टिस के लिए कोई मैदान उपलब्ध नहीं करवाया जाएगा।
चौथा, विदेशी टीमें जिस होटल में रुकेंगी, वहां के रसोइयों को हिदायत दी जाएगी कि वे खूब मिर्च-मसाले वाला खाना बनाएं, जिनसे विदेशी टीमों के खिलाड़ियों के पेट खराब हो जाएं ओर वे ठीक से खेल न सकें।
पांचवा, उनके होटल के कमरे में ढेर सारे मच्छर छोड़े जाएं, ताकि वे ठीक से सो न सकें।
छठा, जो खिलाड़ी भारत के खिलाफ शतक लगाएगा या पांच विकेट लेगा, उसकी मैच फीस जब्त कर ली जाएगी।
सातवां, जो विदेशी खिलाड़ी शून्य बनाएगा या एक भी विकेट नहीं लेगा, उसे आईपीएल में भारी रकम का कांट्रैक्ट दिया जाएगा।
एक प्रस्ताव यह भी आया था कि भारतीय बल्लेबाजों, कप्तान-विकेट कीपर और गेंदबाजों को बेहतर खेलने के लिए ट्रेनिंग दी जाए, पर इसे अव्यावहारिक मानकर रद्द कर दिया गया।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingटीम इंडिया के कोच बनने के इच्छुक स्टुअर्ट लॉ
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड आगामी दक्षिण अफ्रीकी दौरे से पहले टीम इंडिया के नये कोच को चुनने को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है और इसी बीच पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी तथा ऑस्ट्रेलिया-ए के सहायक कोच स्टुअर्ट लॉ ने इस जिम्मेदारी भरे पद को संभालने के लिए अपनी ओर से इच्छा जाहिर की है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड