Image Loading strong leaders counts - Hindustan
गुरुवार, 30 मार्च, 2017 | 00:29 | IST
Mobile Offers Flipkart Mobiles Snapdeal Mobiles Amazon Mobiles Shopclues Mobiles
खोजें
ब्रेकिंग
  • पढ़ें रात 11 बजे की टॉप खबरें, शुभरात्रि
  • आपकी अंकराशि: जानिए कैसा रहेगा आपका कल का दिन
  • प्राइम टाइम न्यूज़: पढ़े अब तक की 10 बड़ी खबरें
  • संशोधनों के साथ सीजीएसटी बिल लोकसभा में पास
  • जीएसटी से संबंधित सभी चार बिल लोकसभा में पास
  • धर्म नक्षत्र: नवरात्रि, ज्योति, फेंगशुई से जुड़ी 10 खबरें
  • बॉलीवुड मसाला: करण जौहर के बच्चों को मिली हॉस्पिटल से छुट्टी, यहां पढ़ें,...
  • हिन्दुस्तान Jobs: असिस्टेंट इंजीनियर के 54 पद रिक्त, बीटेक पास करें आवेदन
  • योगी बोले, लोग संतों को भीख नहीं देते, मोदी ने मुझे यूपी सौंप दिया, पढ़ें राज्यों...
  • टॉप 10 न्यूज़: पढ़े अब तक की देश की बड़ी खबरें
  • योग महोत्सव में बोले सीएम योगी आदित्यनाथ, लोग साधु-संतों को भीख नहीं देते, पीएम...
  • गैजेट-ऑटो अपडेट: पढ़ें आज की टॉप 5 खबरें
  • स्पोर्ट्स अपडेटः ऑस्ट्रेलिया मीडिया ने फिर साधा विराट पर निशाना, कहा...
  • बॉलीवुड मिक्स: कटप्पा ने खुद किया खुलासा, आखिर क्यों बाहुबली को मारा पढ़ें,...
  • आईएसआईएस के दो संदिग्ध कार्यकर्ता दिल्ली अदालत पहुंचे, स्वयं के दोषी होने की दी...
  • जरूर पढ़ें: इस शख्स ने 202 km घूमकर बनाया 'बकरी' का MAP,पढे़ं दिनभर की 10 रोचक खबरें
  • सुप्रीम कोर्ट का आदेश, एक अप्रैल से बीएस-3 मानक को पूरा करने वाले वाहनों की नहीं...
  • टीवी गॉसिप: पढ़ें, इस VIDEO में दिखेगा प्रत्युषा की मौत से पहले का सच!, यहां पढ़ें...
  • स्वाद-खजाना: नवरात्रि व्रत की रेसिपी, जानें कैसे बनाएं स्वादिष्ट पाइनेप्पल...
  • यूपी: सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी आवास में किया गृह प्रवेश, लखनऊ के 5 कालिदास...
  • लखनऊः लोहिया इंस्टीट्यूट में पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी को देखने पहुंचे...

मजबूत नेता के मायने

मनोज कुमार की फेसबुक वॉल से First Published:20-03-2017 11:32:19 PMLast Updated:20-03-2017 11:32:19 PM

पिछले 25-30 वर्षों में राज्य की लोक-कल्याणकारी क्षमता बेतरह घटी है, चाहे सरकार किसी की भी रही हो। मुझ पर विश्वास नहीं है, तो गुजरात जैसे राज्यों में शिक्षा और स्वास्थ्य के मानकों को उठाकर देख लीजिए। हालांकि, जनता को नियंत्रित करने की सरकार की क्षमता लगातार बढ़ी है। मानसिक नियंत्रण मीडिया व वाट्सएप के जरिये और शारीरिक नियंत्रण आधार कार्ड से लेकर भांति-भांति की सुरक्षा एजेंसियों के जरिये। अगर आप इन दोनों तथ्यों को ध्यान में रखेंगे, तो मजबूत सरकार, मजबूत नेता की जो धारणा बन रही, उसे समझने में मदद मिलेगी। मजबूत नेता अपने समर्थकों को नौकरी आदि नहीं दे सकता; हां कुछ बड़बोलेपन की, गाली-गलौज करने की, उत्पात मचाने और दंगे आदि करने की छूट दे सकता है। कुछ कमीशन आदि कमाने की भी छूट दे सकता है। जो नेता अपने समर्थकों को जितना ज्यादा छुट्टा छोड़ेगा, वह उतना ही मजबूत माना जाएगा। पार्टियों के लिए सरकारी टैक्स से इतर बड़े उद्योगपतियों से धन जमा करने की क्षमता बहुत बढ़ गई है, क्योंकि प्राकृतिक संसाधनों का आवंटन अब भी राज्य के हाथ में है, इसलिए राज्य के पास भले टैक्स कम हो, सत्ताधारी दलों के पास पैसा बहुत है। इसके बाद भी आप किसी विकास (मानव विकास) जैसे चमत्कार की उम्मीद कर रहे हैं, तो आपकी मरजी।

जरूर पढ़ें

 
Hindi News से जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
Web Title: strong leaders counts
 
 
 
अन्य खबरें
 
From around the Web
जरूर पढ़ें
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
संबंधित ख़बरें