बुधवार, 26 नवम्बर, 2014 | 11:54 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बीमारों के लिए मेडिकल वीजा हो: मोदीक्लीज एनर्जी पर जोर देना होगा: मोदी2016 में सार्क का साझा सैटेलाइट: मोदीसार्क देशों के बीच वीजा की जगह बिजनेस ट्रेवलर कार्ड हो: मोदीदेशों को जोड़ने पर हमारा विशेष ध्यान: मोदीक्या इस धीमी रफ्तार की वजह से हमारे बीच मतभेद हैं: मोदीलोगों की उम्मीदों के हिसाब से सार्क की रफ्तार काफी धीमी: मोदीसार्क में काम करने की रफ्तार काफी धीमी: मोदीभारत-नेपाल और भारत-भूटान के बीच नए संबंधों की शुरुआत हुई: मोदीसार्क देशों के लोगों में व्यापार काफी कम: मोदीसबको अच्छा पड़ोसी मिलना चाहिए, सबकी चुनौतियां एक जैसी: मोदीसार्क में आपसी निवेश काफी कम: मोदीअच्छा पड़ोसी विकास में सहायक होता है: मोदीमोदी ने कहा, शुक्रिया नेपालहमें अपनी स्थिति को देखना होगा: नरेंद्र मोदीदक्षिण एशिया के देशों में मिलकर काम करने की जरूरत: मोदीमोदी ने सार्क सम्मेलन के लिए नेपाल को बधाई दीसार्क सम्मेलन में नरेंद्र मोदी का भाषण शुरू
सीमा लांघ पाक सेना ने मारे दो जवान
जम्मू, एजेंसियां First Published:08-01-13 11:35 PM

पाकिस्तान के कुछ सैनिक मंगलवार को भारतीय सीमा में घुस आए और गश्ती दल पर हमला बोल दिया। उन्होंने दो सैनिकों की गला काटकर हत्या कर दी और उनमें से एक का सिर साथ ले गए। कारगिल हमले के बाद संभवत: यह पहला मौका है जब पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय सीमा में इस तरह घुसपैठ की।

जानकारी के मुताबिक पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा से सटे क्षेत्र में हुए इस हमले में पाकिस्तानी सैनिक करीब 100 मीटर तक भारतीय सीमा में घुस आए। उन्होंने दो लांस नायकों हेमराज और सुधाकर सिंह की हत्या करने के अलावा दो अन्य सैनिकों को घायल कर दिया। सूत्रों ने बताया कि इस क्रूर हमले के दौरान पाकिस्तानी सैनिकों ने कथित रूप से दो सैनिकों के सिर काट दिए।

इस बीच सेना ने भारतीय सैनिकों के मौत की पुष्टि की है लेकिन इस रिपोर्ट पर टिप्पणी नहीं की कि उनके सिर काट दिए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना की बॉर्डर एक्शन टीम के सैनिकों ने पुंछ जिले के कृष्णा घाटी इलाके में भारतीय सीमा में प्रवेश किया और हमला किया।

उधमपुर स्थित सेना की उत्तरी कमान ने एक बयान जारी कर इस हमले को लगातार किए जा रहे संघर्ष विराम के उल्लंघनों और पाकिस्तानी सेना द्वारा समर्थित घुसपैठ के प्रयासों में महत्वपूर्ण इजाफा करार दिया है। सेना ने कहा, पाकिस्तानी सैनिक जंगल इलाके में कोहरे और धुंध का फायदा उठाते हुए हमारे पोस्ट की ओर बढ़ रहे थे कि तभी एक सतर्क गश्ती दल ने उन्हें देख लिया और घुसपैठियों के साथ भिड़ गए। बयान के मुताबिक, पाकिस्तानी और हमारे सैनिकों के बीच यह गोलीबारी करीब आंधे घंटे चली जिसके बाद घुसपैठिये नियंत्रण रेखा को पारकर वापस अपनी ओर चले गए।

घटना के संबंध में विदेश मंत्रलय, रक्षा मंत्रालय के साथ संपर्क में है। पाक सेना की ओर से संघर्ष विराम के उल्लंघन के मामलों में तेजी आई है जो खराब मौसम का फायदा उठाकर उग्रवादियों को भारतीय सीमा में भेजने की कोशिश कर रही है। पिछले एक महीने में पाक सेना ने 12 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है।

 

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ