शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 15:47 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
पूर्व सैनिकों ने कहा है कि सरकार ने हमारी केवल एक मांग मानी है, 6 मांगों को खारिज कर दिया है, हमारा विरोध प्रर्दशन जारी रहेगावन रैंक वन पेंशन पर वीआरएस का प्रस्ताव पूर्व सैनिकों ने नामंजूर किया, 5 साल में समीक्षा मंजूर नहीं, वीआरएस पर सरकार से सफाई मांगेंगेएरियर चार किश्तों में दिया जाएगाः पर्रिकरपिछली सरकार ने ओआरओपी के लिए बहुत कम बजट रखा थाः पर्रिकर2013 को ओआरओपी के लिए आधार वर्ष माना जाएगाः पर्रिकरवीआरएस लेने वाले ओआरओपी से बाहर होंगेः पर्रिकरवन रैंक वन पेंशन से सरकार पर आएगा दस हजार करोड़ अतिरिक्त वित्तीय भारवन रैंक वन पेंशन का एलान, रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने किया एलान
सिलेंडर 130 और डीजल 4.5 हो सकता है महंगा
नई दिल्ली, अनुपमा ऐरी First Published:08-01-2013 11:30:49 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

आने वाले दिनों में महंगाई फिर आपकी जेब पर भारी पड़ सकती है। सरकार ने डीजल, रसोई गैस और केरोसिन के मूल्य वृद्धि का प्रस्ताव तैयार किया है। 

सरकार की योजना सब्सिडी वाले रसोई गैस (एलपीजी) के दाम में प्रति सिलेंडर 130 रुपये वृद्धि करने की है। साथ ही  डीजल के मूल्य में 4.50 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की जाएगी या जनवरी से मार्च तक हर महीने उसके दाम 1.50 रुपये बढ़ाए जाएंगे। इसी तरह केरोसिन के दाम में हर महीने 35 पैसे या मार्च 2015 तक एक रुपये तिमाही वृद्धि की योजना है। ईंधन मूल्य वृद्धि के प्रस्ताव, जिसकी प्रति ‘हिन्दुस्तान टाइम्स’ के पास भी है, पर सरकार गंभीरता से विचार कर रही है। प्रधानमंत्री की अगुवाई में होने वाली मंत्रिमंडल की बैठक में इस प्रस्ताव पर अंतिम निर्णय लिया जा सकता है।

सिलेंडर का दाम 130 रुपये बढ़ाने का प्रस्ताव तेल कंपनियों ने रखा है। हालांकि वैकल्पिक तौर पर यह भी प्रस्ताव आया है कि रियायत वाले सिलेंडर के दाम में तुरंत 65 रुपये की बढ़ोतरी की जाए और बाकी इतनी ही वृद्धि 31 मार्च से पहले की जाए। सरकार अभी रियायती सिलेंडर पर 520 रुपये की सब्सिडी मुहैया करा रही है।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें