सोमवार, 03 अगस्त, 2015 | 05:57 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    झारखंड की शिक्षा मंत्री की शिक्षा का जवाब नहीं, अब बिहार को बताया पड़ोसी देश पाकिस्तान ने 163 भारतीय मछुआरों को रिहा किया  हम टीचर्स की इज्जत करतें हैं, आपलोगों को नहीं मारेंगे: आईएस आतंकी  पीएम मोदी की गया रैली में प्रयोग होगा एसपीजी की 'ब्लू बुक' अलर्ट, जानिये क्या है 'ब्लू बुक'... लालू ने भरी हुंकार, कहा शोषितों की आजादी की दूसरी लड़ाई लड़ रहा राजद कांगेस ने साधा धूमल और अनुराग ठाकुर पर निशाना  LIVE VIDEO: हरिद्वार में चालक ने पुलिस पर चढ़ाई कार, आरोपी गिरफ्तार राष्ट्रपति शासन में हो बिहार का चुनाव: पासवान  आधा देश बाढ़ तो आधा सूखे की ओर  शिक्षक बनने के लिए नेट और पीएचडी योग्यताओं की समीक्षा होगी
बंद कमरे में होगी गैंगरेप की सुनवाई
नई दिल्ली, वरिष्ठ संवाददाता First Published:07-01-2013 11:33:19 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

अदालत ने वसंत विहार गैंगरेप मामले की सुनवाई बंद कमरे में कैमरे के सामने कराने का आदेश दिया है। इसके साथ ही मीडिया को भी बिना अनुमति के अदालती कार्यवाही को प्रकाशित और प्रसारित करने से रोक दिया गया है। साकेत कोर्ट स्थित मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट नम्रता अग्रवाल ने अपने आदेश में कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी सुनवाई बंद कमरे में होगी। इससे पहले दिन में करीब 12 बजे गैंगरेप के पांच आरोपियों की पेशी के दौरान कोर्ट में बड़ी संख्या में लोग जुट गए थे।

इस पर नाराजगी जताते हुए मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने बंद कमरे में सुनवाई की दिल्ली पुलिस की मांग से सहमति जताई। कोर्ट ने कहा कि अभूतपूर्व स्थिति पैदा हो गई है, बार के सदस्यों के साथ-साथ मामले से कोई संबंध न रखने वाले भी यहां पहुंच गए हैं। इससे कार्यवाही में व्यवधान पैदा हो गया है।

कोर्ट ने अपने आदेश में यह भी कहा कि अदालत परिसर की हवालात के प्रभारी ने कहा है कि सुरक्षा के मद्देनजर आरोपियों की पेशी में दिक्कत आ रही है। कोर्ट ने कहा कि लोक अभियोजक ने भी कहा है कि विचाराधीन कैदियों की सुरक्षा को लेकर चिंता है।

तुरंत प्रभाव से बनें फास्ट ट्रैक कोर्ट
नई दिल्ली
देश के चीफ जस्टिस ने सभी हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीशों को महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मुकदमे जल्द निपटाने के लिए तुरंत प्रभाव से फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाने के निर्देश दिए हैं। चीफ जस्टिस अल्तमस कबीर ने राजधानी के वसंत विहार में गैंगरेप की घटना पर चिंता व्यक्त करते हुए इस संबंध में राज्यों के मुख्य न्यायाधीशों को पत्र लिखा है। चीफ जस्टिस ने कहा है कि अतिरिक्त स्टाफ और जजों का इंतजार किए बिना ही मौजूदा जजों को लेकर फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित किए जाएं, ताकि बिना देरी के काम शुरू हो सके।

उन्होंने इसकी जरूरत के कारण स्पष्ट करते हुए कहा कि उच्च और सत्र अदालतों में महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मुकदमे बड़ी संख्या में लंबित हैं। हाल ही में इस तरह के मामलों में जबरदस्त इजाफा हुआ है। ऐसा लगता है कि इस तरह के मामलों के निपटारे में देरी ही इसका कारण है।
(वि.सं.)

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingMCA ने शाहरुख के वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश करने से बैन हटाया
मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन ने अभिनेता शाहरुख खान पर वानखेड़े स्टेडियम में घुसने पर लगा प्रतिबंध हटा लिया है। एमसीए के उपाध्यक्ष आशीष शेलार के मुताबिक एमसीए ने यह फैसला रविवार को हुई मैनेजिंग कमेटी की बैठक में लिया है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?