शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 22:54 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
दरिंदे उसे कुचलना चाहते थे
नई दिल्ली, वरिष्ठ संवाददाता First Published:01-01-13 11:42 PM

दिल्ली पुलिस वसंत विहार गैंग रेप मामले में चाजर्शीट तैयार कर चुकी है। अहम बात यह है कि पुलिस की चार्जशीट के अनुसार आरोपियों ने बस से फेंकने के बाद पीड़ित लड़की को कुचलने की भी कोशिश की थी। लेकिन मौके से जल्दी गायब होने की कोशिश में उन्हें वहां से भागना पड़ा।

पुलिस चाजर्शीट में यह भी साफ है कि केबिन के पीछे बायीं सीट पर एक युवक बैठा था और दायीं ओर एक और युवक। पीड़ित लड़की के दोस्त ने पुलिस को बताया कि शुरुआत में उसे यह भ्रम हुआ कि केबिन के बाहर बैठे युवक बस की सवारियां हैं और इसी गलतफहमी की वजह से वे लोग बस में चढ़ गए।

पुलिस ने अपनी चार्जशीट में आरोपियों पर सबूतों को नष्ट करने का भी आरोप लगाया है। इसके अलावा पुलिस चाजर्शीट के अनुसार बदमाशों ने युवक से एक सोने की अंगूठी, एक हजार रुपये, दो मोबाइल फोन, डेबिट-क्रेडिट कार्ड भी वारदात करने के बाद लूट लिए।

पुलिस के पास सबूतों के नाम पर वह लोहे की रॉड है जिससे युवक और युवती पर हमला किया गया। इसके अलावा युवक और युवती के कपड़े भी पुलिस के हाथ लग चुके हैं। वहीं सूत्रों की माने तो पुलिस करीब चार दर्जन गवाहों की मदद से केस को मजबूत बनाने का दावा कर रही है।

इस केस में पुलिस के लिए सबसे बड़ा सबूत डीएनए रिपोर्ट और फोरेंसिक की रिपोर्ट होगी। सूत्रों की माने तो पुलिस ने आईपीसी की कुल नौ धाराओं में मामला बनाया है जिसमें 302 (हत्या), 307 (हत्या की कोशिश), 396 (डकैती और हत्या), 376 (2)(जी), 377, 394,365, 201 और 34 शामिल है।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ