गुरुवार, 02 जुलाई, 2015 | 02:40 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    अब मोबाइल फोन से डायल हो सकेगा लैंडलाइन नंबर गोद से गिरी बच्ची, बचाने के लिए मां भी चलती ट्रेन से कूदी बलात्कार मामलों में कोई समझौता नहीं, औरत का शरीर उसके लिए मंदिर के समान होता है: सुप्रीम कोर्ट अब यूपी पुलिस 'चुड़ैल' को ढूंढेगी, जानिए क्या है पूरा मामला  खुलासा: एक रुपया तैयार करने का खर्च एक रुपये 14 पैसे दार्जिलिंग: भूस्‍खलन के कारण 38 लोगों की मौत, पीएम ने जताया शोक, 2-2 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान यूनान ने किया डिफॉल्ट, नहीं चुकाया अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष का कर्ज विकी‍पीडिया पर नेहरू को मुस्लिम बताये जाने पर भड़की कांग्रेस, पूछा अब क्या कार्रवाई करेगी मोदी सरकार PHOTO: जब मंत्रीजी ने पकड़ी लेडी डॉक्टर की कॉलर और बोले... ललित मोदी के ट्वीट पर बवाल, भाजपा नहीं करेगी वरुण गांधी का बचाव
कम आय वालों को फीस में पूरी छूट
नई दिल्ली, मदन जैड़ा First Published:01-01-13 11:40 PM

भारतीय प्रौद्यौगिकी संस्थानों (आईआईटी) में अगले सत्र से आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को फीस में पूरी तरह से छूट मिल सकती है। जिन अभिभावकों की वार्षिक आय साढ़े चार लाख रुपये से कम है, उन्हें आर्थिक रूप से कमजोर मानते हुए आईआईटी उनकी पूरी फीस माफ करने की तैयारी में हैं। ऐसे छात्रों के लिए नेशनल आईआईटी स्कॉलरशिप प्रोग्राम शुरू किया जाएगा।

मानव संसाधन विकास मंत्री पल्लम राजू की अध्यक्षता में सात जनवरी को होने वाली आईआईटी काउंसिल की बैठक में इस प्रस्ताव को अंतिम रूप दिए जाने की संभावना है। इसी बैठक में आईआईटी की फीस को 50 से बढ़ाकर 90 हजार किया जाना है। वैज्ञानिक डॉ. अनिल काकोडकर ने यह स्कॉलरशिप शुरू करने की सिफारिश की थी। इसमें अनुसूचित जातियों एवं जनजातियों के उम्मीदवारों को भी शामिल किया जाएगा। इसके अलावा 25 फीसदी सीटें उन छात्रों के लिए रखी जाएंगी जिनके अभिभावकों की वार्षिक आय साढ़े चार लाख रुपये से कम है। इस प्रकार 47.5 फीसदी छात्रों को इस स्कॉलरशिप योजना के तहत लाया जाएगा। यह योजना लागू होती है तो फिर आईआईटी में सिर्फ 52.5 फीसदी छात्रों को ही पूरी फीस चुकानी होगी। अंतिम फैसला बोर्ड ऑफ गवर्नर्स को करना है।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड