रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 01:10 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
पुलिस से खतरा बता छोड़ा गांव
ग्रेटर नोएडा First Published:29-12-12 11:38 PM

जारचा कोतवाली क्षेत्र के गांव छायसा में गैंगरेप पीड़ित छात्रा और उसके परिवार ने गांव छोड़ दिया है। छात्रा के पिता ने जिलाधिकारी कार्यालय में मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि आरोपियों से छात्र को जान का खतरा है। पुलिस आरोपियों को संरक्षण दे रही है।

गौरतलब है कि 26 दिसंबर को छायसा गांव की 10वीं कक्षा की एक छात्रा का गांव के ही पांच युवकों ने अपहरण कर लिया था। कार में गैंगरेप के बाद उसे दादरी के पास फेंक दिया गया। युवती अपने पिता के साथ थाने में शिकायत करने पहुंची लेकिन पुलिस ने एफआईआर दर्ज नहीं की।

इसके बाद गांव में पंचायत ने फैसला दिया कि परिवार केस दर्ज नहीं करवाएगा। लेकिन परिवार ने निर्णय मानने से इनकार दिया। काफी प्रयास के बाद गुरुवार को अपहरण और छेड़खानी का मामला ही दर्ज किया। मामला मीडिया में आने पर छात्रा का मेडिकल हुआ।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ