शनिवार, 04 जुलाई, 2015 | 08:52 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    पूर्व रॉ प्रमुख का खुलासा: खुफिया एजेंसी कश्मीर में आतंकियों को देती है पैसा वैज्ञानिकों ने खोला कम और अधिक आयु का राज, आप भी जान लीजिए यूपी में 'चुड़ैल का वीडियो' हुआ वायरल, पुलिस ढूंढ रही 'चुड़ैल' को 'उधर हेमा को अस्पताल ले गए, इधर मेरी बेटी ने अपनी मां की गोद में दम तोड़ दिया' फिल्म देखने से पहले पढ़ें 'गुड्डू रंगीला' का रिव्यू फिल्म रिव्यू: टर्मिनेटर जेनेसिस पूर्व रॉ प्रमुख के खुलासे के बाद सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस, PM से की माफी की मांग झारखंड: मेदिनीनगर के हुसैनाबाद में ओझा-गुणी की हत्या हजारीबाग के पदमा में दो गुटों में भिड़ंत, आधा दर्जन घायल गुमला में बाइक के साथ नदी में गिरा सरकारी कर्मी, मौत
लड़की अब भी खतरे में
सिंगापुर, एजेंसियां First Published:27-12-12 11:33 PM

करीब पांच घंटे की उड़ान भरकर दिल्ली गैंगरेप की शिकार पीड़िता गुरुवार को सिंगापुर तो पहुंच गई, लेकिन उसकी हालत अब भी नाजुक बनी हुई है। सिंगापुर के माउंट एलिजाबेथ अस्पताल द्वारा भारतीय समयानुसार शाम साढ़े चार बजे जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक लड़की की हालत अभी चिंताजनक है।

सूत्रों के मुताबिक, करीब एक सप्ताह तक पीड़िता के संक्रमण का इलाज होगा, इसके बाद ही छोटी आंत का प्रत्यारोपण किया जाएगा। इस प्रक्रिया में करीब 3-4 हफ्ते का वक्त लग सकता है। एलिजाबेथ अस्पताल के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉक्टर केल्विन लोह ने बताया कि अलग-अलग विभागों के विशेषज्ञों की टीम युवती का उपचार कर रही है और उसकी हालत स्थिर करने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

यहां भी पीड़िता को वेंटिलेटर पर रखा गया है। बताया जा रहा है कि दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए सिंगापुर भेजने का प्रस्ताव रविवार को ही सुशील कुमार शिंदे के सामने रखा था। पीड़िता के हालत में सुधार नहीं होने पर सरकार ने मेदांता के डॉक्टर नरेश त्रेहन से सलाह ली। 

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड