शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 21:47 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
स्कूली बच्चों का ऑटो पलटा, दो की मौत
फरीदाबाद, वरिष्ठ संवाददाता First Published:24-12-2012 11:16:12 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

स्कूली बच्चों से भरा एक तेज रफ्तार ऑटो सोमवार को उल्टी दिशा में आ रहे स्कूली रिक्शे से टकराकर पलट गया। रिक्शे में भी बच्चे बैठे थे। ऑटो के पलटने से उसमें बैठे दो बच्चों की मौत हो गई, जबकि 12 घायल हो गए।

घटना बाईपास रोड सेक्टर-37 कट के पास दोपहर दो बजे हुई। ऑटो पल्ला रोड की ओर आ रहा था। जबकि स्कूली बच्चों से भरा रिक्शा यहां उल्टी दिशा में आ रहा था। दोनों नजदीक आए तो ऑटो, रिक्शे से टकराने के बाद पलट गया। घटना में ऑटो व रिक्शे में बैठे बच्चे घायल हुए। कुछ को अस्पताल ले जाया गया।

वहां डॉक्टरों ने पल्ला निवासी हरिसिंह के सात वर्षीय बेटे समीर और सूर्या विहार पार्ट-दो निवासी अविनाश की सात वर्षीय बेटी आयुषि को मृत घोषित कर दिया। दोनों दिल्ली-ताजपुररोड स्थित स्टेनफोर्ड स्कूल में क्रमश: दूसरी व यूकेजी में पढ़ते थे। उधर, शाम को बच्चों के पोस्टमार्टम को लेकर हंगामा खड़ा हो गया।

बीके अस्पताल की मोर्चरी में शवों को खुले में रखने व मंगलवार को पोस्टमार्टम करने की बात कहने पर परिजनों का गुस्सा भड़क गया। परिजन पोस्टमार्टम न कराने की बात पर अड़ गए। बाद में पुलिस अधिकारियों ने मामले को शांत कराया। फिलहाल जांच जारी है।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।