शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 02:01 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
डंडे बरसे, बिगड़े हालात
नई दिल्ली, प्रमुख संवाददाता First Published:23-12-12 11:54 PM

वसंत विहार गैंग रेप मामले में कई दिनों से जारी विरोध प्रदर्शन के दौरान रविवार को दिल्ली पुलिस का बर्बर चेहरा देखने को मिला। इंडिया गेट, राजपथ और जंतर मंतर पर प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने जमकर लाठियां भांजी जिसमें 100 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

प्रदर्शनकारियों और पुलिस के  बीच हिंसक झड़प में दो पुलिसकर्मी भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। राममनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराए गए दोनों पुलिसकर्मियों की हालत नाजुक बताई गई है। हालांकि पुलिस ने रविवार सुबह में ही दिल्ली में धारा 144 लागू कर दी थी बावजूद इसके इंडिया गेट पर बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी जुट गए।

बाबा रामदेव और अरविंद केजरीवाल के समर्थन ने आग में घी का काम किया। बाबा रामदेव शाम न जैसे ही जंतरमंतर से इंडिया गेट की ओर बढ़ने की कोशिश की, पुलिस ने भीड़ पर लाठीचार्ज कर दिया जिसमें छह लोग घायल हो गए।

भीड़ को भगाने के लिए पुलिस ने कई बार आंसू गैस के गोले छोड़े और पानी की बौछार की। शाम को इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति के पास पुलिस ने लोगों को घेरकर लाठियां बरसाना शुरू कर दिया। समाजिक कार्यकर्ता योगेंद्र यादव ने लड़कियों को पुलिस से बचाने की कोशिश की तो पुलिसकर्मी उनपर भी टूट पड़े।

पुलिसकर्मियों ने कोप का शिकार भाजपा नेता विजय गोयल और उनकी दो बेटियां भी बनीं। पुलिसिया लाठीचार्ज में कई मीडियाकर्मी भी घायल हो गए और कई टीवी चैनलों की कैमरे पुलिसवालों ने तोड़ डाले।
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ