शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 14:12 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
जम्मू: बिशनाह चुनाव क्षेत्र में मतदान केन्द्र संख्या 27 में कुल 640 वोटर हैं और मतदान के पहले घंटे में 72 प्रतिशत मतदान हो चुका है।जम्मू: बानी में 15.22 प्रतिशत, हरीनगर 15.02 प्रतिशत, बिशनाह में 14 प्रतिशत, मारह 12 प्रतिशत, कठुआ में 11.71 प्रतिशत, बशोली में 11 प्रतिशत, बिल्लावर में 10.25 प्रतिशत और गांधीनगर एवं जम्मू पूर्व में 10 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू पश्चिम और नौशेरा में नौ-नौ प्रतिशत और डरहाल में 8.50 प्रतिशत एवं कालकोट में 7.15 प्रतिशत मतदान हुआ है।जम्मू: जम्मू जिले के गांधीनगर विधानसभा में केंद्रीय विद्यालय में तीन मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस केंद्र पर पहले आधे घंटे में लगभग 50 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।जम्मू: गांधीनगर इलाके एक पोलिंग स्टेशन पर निर्वाचन अधिकारियों ने मतदाताओं के लिए चाय की व्यवस्था भी की है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।झारखंड: दोपहर 1 बजे तक जामताड़ा-57, नाला-56, बोरियो-45, राजमहल-43, बरहेट-47, पाकुड़-61, लिट्टीपाड़ा-59, महेशपुर-58, दुमका-44, जामा-56, जरमुंडी-57, शिकारीपाड़ा-60, सारठ-59, पोड़ैयाहाट-56, गोड्डा-47, महगामा-48 प्रतिशत मतदान हुआ
पेशावर में आत्मघाती हमला, मंत्री की मौत
इस्लामाबाद, एजेंसियां First Published:22-12-12 11:21 PM

पाकिस्तान के पेशावर में शनिवार को एक आत्मघाती बम धमाके में प्रमुख तालिबान विरोध नेता और खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के वरिष्ठ मंत्री बशीर अहमद बिलाउर सहित आठ लोगों की मौत हो गई। धमाके में 18 लोग घायल हो गए। हमले की जिम्मेदारी तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने ली है।

आत्मघाती हमलावर ने शहर के किस्सा ख्वानी बाजार के पास भीड़भाड़ वाले धाकी नालबंदी इलाके में एक घर के आगे खुद को उड़ा लिया। उस समय 69 वर्षीय बिलाउर अपनी अवामी नेशनल पार्टी (एएनपी) के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक  करके निकल रहे थे। बिलाउर के सीने और पेट में गंभीर चोटें आईं। उन्हें लेडी रीडिंग अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। बिलाउर प्रांत के एक शीर्ष राजनीतिक और व्यापारिक घराने से आते थे।

उनके परिवार का धर्मनिरपेक्ष एएनपी से पुराना नाता रहा है। वह पेशे से वकली और तालिबान के मुखर विरोधी थे।
पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आत्मघाती हमले में बिलाउर के निजी सचिव हाजी नूर मोहम्मद और पुलिस अधिकारी अब्दुस सत्तार खान भी मारे गए। अस्पताल के अधिकारियों के मुताबिक 18 घायलों में सात की हालत गंभीर है। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के प्रवक्ता इंसानुल्लाह एहसान ने पत्रकारों को फोन करके हमले की जिम्मेदारी ली है। उसने कहा कि बिलाउर हमारे निशाने पर थे क्योंकि वह तालिबान के खिलाफ बोलते थे।

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड