शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 11:38 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
बरूराज से राजद विधायक ब्रजकिशोर सिंह आज भाजपा में होंगे शामिल।उत्तर प्रदेश: बदायूं में बिसौली-सहसवान रोड पर टेम्पो पलटा, 2 की मौत, शनिवार सुबह दस बजे हुआ बड़ा हादसा, दुर्घटना में आठ लोग हो गए गंभीर घायल, मृतकों में ड्राईवर रामकिशोर और सवारी शेलेन्द्र, बहन से राखी बंधवाने जा रहा था रसूलपुर शैलेन्द्र।बिहारीगंज से जदयू विधायक रेणू कुशवाहा के भाजपा में शामिल होने की सूचना, पटना में आज शामिल हो सकती हैं।जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सेना के हथियार डिपो के पास विस्फोट, एक दर्जन से ज्यादा जवानों के जख्मी होने की खबर।
मलिक ने गुमराह किया: शिंदे
नई दिल्ली, विशेष संवाददाता First Published:17-12-2012 11:37:35 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

केंद्र सरकार ने पाकिस्तान के सबसे बड़े झूठ को बेनकाब करते हुए कहा है कि लश्कर-ए-तैयबा के सरगना व मुंबई हमले के षड्यंत्रकारी हाफिज सईद को इस मामले में कभी गिरफ्तार ही नहीं किया गया। जबकि पाकिस्तान के गृह मंत्री भारत यात्रा के दौरान यह दावा करते रहे कि सईद को तीन बार मुंबई हमले में गिरफ्तार किया गया, लेकिन सबूतों के अभाव में वह छूट गया। मगर, इस नए खुलासे से पाकिस्तान की असलियत अब दुनिया के सामने आ गई है।

गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने पाकिस्तान के गृह मंत्री रहमान मलिक के भारत दौरे पर सोमवार को संसद में दिए बयान में यह खुलासा किया। उन्होंने कहा कि गत शुक्रवार को हुई बातचीत के दौरान मलिक ने उनसे कहा कि वह सईद की गिरफ्तारी के संदर्भ में दस्तावेज अपने साथ लेकर आए हैं। शिंदे के कहने पर मलिक ने उन्हें सईद की वर्ष 2002 और 2009 में की गई गिरफ्तारी से संबंधित दस्तावेज उपलब्ध कराए। 

गृह मंत्री ने कहा कि इन दस्तावेजों की जब जांच की गई तो पता चला कि दोनों मामलों में सईद की गिरफ्तारी 26./11 मुंबई हमले की बजाय अन्य कारणों से हुई थी।  शिंदे ने कहा कि वह सिर्फ यही कह सकते हैं कि इस बारे में मलिक को वहां के अधिकारियों ने गलत जानकारी दी। गृह मंत्री ने सदन में मलिक से विभिन्न मुद्दों पर हुई बातचीत का ब्योरा भी रखा।

 

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image LoadingLIVE: भारत को तीसरा झटका, कोहली आउट
भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार को सिन्हलीज स्पोर्ट्स क्लब मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ तीसरा निर्णायक टेस्ट में बल्लेबाजी करते हुए अपना तीसरा विकेट गंवा दिया।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब जय की हुई जमकर पिटाई...
वीरू (जय से): कल तुझे मेरे मोहल्ले के दस लड़कों ने बहुत बुरी तरह पीटा। फिर तूने क्या किया?
जय: मैंने उन सभी से कहा कि कि अगर हिम्मत है, तो अकेले-अकेले आओ।
वीरू: फिर क्या हुआ?
जय: होना क्या था, उसके बाद उन सबने एक-एक करके फिर से मुझे पीटा।