गुरुवार, 28 मई, 2015 | 19:35 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    मोदी ने अर्थव्यवस्था का ज्ञान बढ़ाने के लिए ली मनमोहन से क्लासः राहुल लोकलुभावन रास्ते की बजाय अधिक कठिन मार्ग चुना :मोदी CBSE 10th रिजल्ट: 94,447 छात्रों को मिला 10 सीजीपीए सोनिया की मौजूदगी में हुई बैठक, पास हुआ मोदी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव जेट एयरवेज की टिकटों पर 25 प्रतिशत छूट की पेशकश रायबरेली पहुंची सोनिया गांधी व्यापम घोटाला: अब तक जांच से जुड़े 40 लोगों की मौत त्रिपुरा सरकार ने राज्य में 18 सालों से लगा अफस्पा हटाया गुर्जर आंदोलन: बैंसला बोले, चाहे कुछ हो जाए बिना आरक्षण लिए नहीं लौटेंगे कुछ इस तरह हुई फीफा के 14 अधिकारियों की गिरफ्तारी
युद्ध स्मारक पर एंटनी और शीला में टकराव
नई दिल्ली, भाषा First Published:16-12-12 11:32 PM

इंडिया गेट पर युद्ध स्मारक बनाने के प्रस्ताव को लेकर रक्षामंत्री ए.के. एंटनी और दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित आमने-सामने आ गए हैं। पाकिस्तान के साथ 1971 के युद्ध की 41वीं वर्षगांठ पर रविवार को एंटनी ने अमर जवान ज्योति पर पुष्पचक्र अर्पित करने के बाद कहा कि युद्ध स्मारक के लिए इंडिया गेट सही स्थान है। लंबे प्रयासों के बाद मंत्रियों के समूह और तीनों सेनाओं के प्रमुखों के बीच इसको लेकर सहमति बनी है।

दरअसल, तीनों सेनाएं शहीद हुए जवानों की याद में राजधानी में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक बनाने की मांग करती आई हैं। प्रधानमंत्री ने एंटनी की अध्यक्षता में मंत्रियों का समूह गठित कर उपयुक्त स्थल तलाशने को कहा था। अगस्त में इस समूह ने इंडिया गेट परिसर में स्थित प्रिंसेस पार्क का चयन किया। इस पर शहरी विकास मंत्रालय ने सभी पक्षों से प्रतिक्रिया मांगी, जिस पर मुख्यमंत्री ने पत्र लिखकर तर्क दिया कि यहां बड़ी संख्या में लोग घूमने आते हैं। स्मारक बनने से सुरक्षा कारणों से लोगों की आवाजाही और माहौल प्रभावित होगा।

 
 
 
|
 
 
जरूर पढ़ें
Image Loadingमूडी, पोटिंग, फ्लेमिंग या विटोरी हो सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच
भारतीय टीम के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर का कार्यकाल खत्म हो चुका है और बीसीसीआई अब एक नए कोच की तलाश में जुटी हुई है। टीम इंडिया का कोच बनना एक बड़ी चुनौती होती है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड