रविवार, 01 फरवरी, 2015 | 20:10 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
उत्तरप्रदेश कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन का सम्मेलन आज अलीगढ़ में संपन्न हुआ। पूरे प्रदेश से इस सम्मेलन में लगभग 600 कोल्ड स्टोरेज स्वामियों ने शिरकत की।उन्होंने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश की काफी समय से उपेक्षा हो रही थी।रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि रेलवे का निजीकरण नहीं होगा। इस बारे में भ्रांतियां फैलाई जा रही है।उत्तरप्रदेश कोल्ड स्टोरेज एसोसिएशन का सम्मेलन आज अलीगढ़ में संपन्न हुआ। पूरे प्रदेश से इस सम्मेलन में लगभग 600 कोल्ड स्टोरेज स्वामियों ने शिरकत की।लखनऊ में चल रहे स्पीकर्स सम्मेलन में हिस्सा लेने आईं लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि केंद्र सरकार को अध्यादेश का रास्ता कम से कम चुनना चाहिए।
कई राज्यों से जुड़े हैं कबूतरबाजी के तार
नई दिल्ली, अंकुर शर्मा First Published:07-12-12 11:31 PMLast Updated:07-12-12 11:33 PM

राजधानी के एयरपोर्ट पर सुरक्षा को धत्ता बताकर चलाए जा रहे कबूतरबाजी गिरोह के तार कई राज्यों से जुड़े हैं। ‘हिन्दुस्तान’ के इस सनसनीखेज खुलासे के बाद पुलिस ने शुक्रवार को मामला दर्ज कर एयर इंडिया के आरोपी अधिकारी राहुल रॉय को गिरफ्तार कर लिया। इमिग्रेशन में तैनात दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल संजीव कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। हालांकि, पुलिस इस पूरे मामले पर बात करने से बच रही है।

जांच में पता चला है कि एयरपोर्ट पर पकड़े गए सभी आठों लोग एक-दूसरे को पहले से नहीं जानते थे। ये अलग-अलग राज्यों से हैं और इन्हें गत तीन दिसंबर को दिल्ली बुलाया था। इस गिरोह के तार आंध्र प्रदेश के हैदराबाद व कर्नाटक के बेंगलुरु आदि से जुड़े होने की बात सामने आई है। अन्य राज्यों के एजेंट भी इस गिरोह की मदद से लोगों को विदेश भेजते थे।

जांच के लिए दिल्ली पुलिस की टीम आंध्र प्रदेश जाएगी। शिकायतकर्ता सिकनामेतला गणेश ने पुलिस को बताया कि गुरुवार को एयरपोर्ट पर दो पुलिसकर्मियों ने उनके बोर्डिंग पास छीन लिए थे। इसके बाद एयर इंडिया के अधिकारी राहुल रॉय और इमिग्रेशन के एक अधिकारी से बात करके उन्होंने पास वापस कर दिए।

गणेश के अनुसार, उनके एजेंट शेखर ने दिल्ली के एक व्यक्ति का फोन नंबर दिया था, जो उन्हें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर मिला। उसी ने एयरपोर्ट पर उन्हें हेड कांस्टेबल संजीव कुमार से मिलवाया। इसके बाद की औपचारिकता पूरी करने की जिम्मेदारी संजीव की थी। पकड़े गए लोगों ने विदेश जाने की तैयारी तीन महीने पहले ही शुरू कर दी थी।

 

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड