रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 10:42 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    शिक्षिका ने की थी गोलीबारी रोकने की कोशिश नांदेड-मनमाड पैसेजर ट्रेन के डिब्बे में आग,यात्री सुरक्षित दिल्ली के त्रिलोकपुरी में हिंसा के बाद बाजार बंद, लगाया गया कर्फ्यू मनोहर लाल खट्टर आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे, मोदी होंगे शामिल राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में
मुक्केबाजी-तीरंदाजी महासंघ भी रद्द
नई दिल्ली, एजेंसियां First Published:07-12-12 11:30 PM

खेलों में ‘राजनीति’ कासमावेश अब परेशानी का सबब बन गया है। इसी का नतीजा कहेंगे कि भारतीय मुक्केबाजी और तीरंदाजी महासंघ के चुनावों में धांधली, राजनीतिक साठगांठ व खेल संहिता का उल्लंघन करने के आरोपों के बीच शुक्रवार को सरकार ने इनकी मान्यता निलंबित कर दी।

गत मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने भारतीय ओलंपिक संघ को निलंबित कर दिया था। आरोप लगे कि ओलंपिक चार्टर को दरकिनार कर आईओए ने सरकार की खेल संहिता के आधार पर चुनाव किए। शुक्रवार को फिर ‘धमाका’ हुआ। अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी महासंघ (आईबा) ने भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (आईएबीएफ) पर गंभीर आरोप लगाते हुए उसे अस्थायी तौर पर निलंबित कर दिया।

दोपहर को खेल मंत्री जितेंद्र सिंह  ने आईएबीएफ की चुनाव प्रक्रिया में खामियां बताकर व भारतीय तीरंदाजी महासंघ के चुनाव में खेल संहिता का उल्लंघन बताते हुए दोनों की मान्यता रद्द करने का ऐलान किया।
 
 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ