शनिवार, 01 नवम्बर, 2014 | 11:37 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आम आदमी की उम्मीदों को पूरा करे सरकार: शिवसेना वर्जिन का अंतरिक्ष यान दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत केंद्र सरकार के सचिवों से आज चाय पर चर्चा करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा आज से शुरू करेगी विशेष सदस्यता अभियान आयोग कर सकता है देह व्यापार को कानूनी बनाने की सिफारिश भाजपा की अपनी पहली सरकार के समारोह में दर्शक रही शिवसेना बेटी ने फडणवीस से कहा, ऑल द बेस्ट बाबा झारखंड में हेमंत सरकार से समर्थन वापसी की तैयारी में कांग्रेस अब एटीएम से महीने में पांच लेन-देन के बाद लगेगा शुल्क  पेट्रोल 2.41 रुपये, डीजल 2.25 रुपये सस्ता
भारतीय ओलंपिक संघ निलंबित
नई दिल्ली/लुसाने (स्विटजरलैंड), एजेंसियां First Published:04-12-12 11:36 PM

ओलंपिक चार्टर के खिलाफ जाने पर अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) को निलंबित कर दिया है। इसके चलते अब भारत एशियाई, ओलंपिक व राष्ट्रमंडल खेलों में हिस्सा नहीं ले सकेगा।

आईओसी के फैसले की जानकारी रखने वाले दो अधिकारियों के हवाले से समाचार एजेंसी ‘एपी’ ने यह खबर दी है। सूचना है कि निलंबन के औपचारिक फैसले की घोषणा लुसाने में कार्यकारी बोर्ड की बैठक के बाद होगी। जानकारों का कहना है कि इस फैसले की पहले से आशंका थी, क्योंकि आईओए ने बुधवार को होने वाला अपना चुनाव सरकार की खेल संहिता के मुताबिक कराने का फैसला किया है। जबकि आईओसी पहले ही चेता चुकी है कि चुनाव ओलंपिक चार्टर के अनुसार हो। ऐसा न करना ओलंपिक चार्टर का उल्लंघन और उसकी स्वायत्ता के साथ समझौता माना जाएगा। आईओए हालांकि यह कहते हुए आगे बढ़ गया है कि वह दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश को मानने के लिए बाध्य है। निलंबन की खबर से खिलाड़ी निराश और नाराज हैं। इस मुद्दे पर खेल मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, ‘मुद्दे को सुलझाने के लिए हम पहला कदम उठाते हुए सरकार, आईओसी और आईओए के प्रतिनिधियों के साथ बैठकर बात करने को तैयार हैं।

बहरहाल, आईओसी के इस फैसले के बाद बुधवार को होने वाले आईओए चुनावों पर अनिश्चितता के बादल छा गए हैं। हालांकि अभय सिंह चौटाला को निर्विरोध अध्यक्ष व राष्ट्रमंडल खेल घोटाले में आरोपी ललित भनोट को महासचिव चुन लिया गया है।

 

 
 
|
 
 
टिप्पणियाँ