शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 17:47 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
कोर्ट ने संपादकों की जमानत याचिका खारिज की
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:03-12-2012 10:11:35 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

कांग्रेस सांसद नवीन जिंदल की कम्पनी से सौ करोड़ रुपये की कथित उगाही के लिए गिरफ्तार किए गए जी न्यूज चैनल के दो संपादकों की जमानत याचिका को दिल्ली की एक अदालत ने खारिज कर दिया है। इन पर कोयला ब्लाक आवंटन घोटाले से जुड़ी खबरें नहीं दिखाने के लिए उगाही करने का आरोप है।

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट राजिंदर सिंह ने यह कहते हुए जमानत याचिका खारिज कर दी कि जी न्यूज के प्रमुख सुधीर चौधरी और जी बिजनेस के संपादक समीर अहलूवालिया ने जमानत के लिए दी गई नई याचिका में कोई नया आधार नहीं बताया है। इससे पहले 28 नवम्बर को उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई थी। अदालत ने कहा कि जांच प्रारंभिक चरण में है और 28 नवम्बर के बाद से तथ्यों एवं परिस्थितियों में कोई बदलाव नहीं है और ड्यूटी मजिस्ट्रेट ने पहले 28 नवम्बर को जमानत याचिका खारिज कर दी थी। उनको जमानत पर रिहा करने के लिए कोई नया आधार नहीं बताया गया है। इसलिए जमानत (याचिका) खारिज की जाती है।

 

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingनए घर में मिला रहाणे को खूबसूरत सरप्राइज
टीम इंडिया के बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे नए घर में शिफ्ट हो गए हैं। श्रीलंका दौरे से लौटने के बाद रहाणे ने नए घर में कदम रखा और उन्हें बहुत खूबसूरत सरप्राइज भी मिला।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।