शनिवार, 05 सितम्बर, 2015 | 11:14 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
मुज़फ्फरनगर- भाजपा के दो बार जिलाध्यक्ष रहे वरिष्ठ नेता देवव्रत त्यागी के बड़े भाई की गोली मार कर हत्यावीआईपी ट्रेन सियालदह राजधानी में महिला यात्री के कान में घुसा कॉकरोच, हंगामे के बाद मुगलसराय में रोकी गई ट्रेन, डॉक्टर ने निकाला कॉकरोच, 45 मिनट देरी से रवाना हुई गाड़ी, सियालदह से जा रही थी नई दिल्लीजौनपुर जिला जेल में अलसुबह छापेमारी के बाद बवालहनीमून पर नेपाल गया बरेली का युवक मानव तस्करी में गिरफ्तारOROP को लेकर पूर्व सैनिक 11:30 बजे रक्षा मंत्री से करेंगे मुलाकातअमरोहा: सैदनगली थाना इलाके के गांव चकगुलाम अबिया में दो घरों में बदमाशों ने की लूटपाटउत्तराखंड: देहरादून में लालपुल पर डंपर और बाइक की टक्कर में बाइक सवार की मौत
अन्ना के स्वास्थ्य में हो रहा सुधार
गुड़गांव, एजेंसी First Published:08-12-2012 09:54:22 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। अस्वस्थ महसूस करने पर उन्हें शुक्रवार को यहां के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। एक चिकित्सक ने शनिवार को कहा कि अन्ना को एक या दो दिन में छुट्टी दे दी जाएगी।

मेडिसिटी मेदांता के एक वरिष्ठ चिकित्सक केएल सहगल ने बताया, ‘अन्ना इस समय तनाव में नहीं हैं। नरेश त्रेहन की अगुवाई में चिकित्सकों की एक टीम अन्ना की जांच रिपोर्टों पर करीब से नजर रखे हुई है। शुक्रवार की तुलना में अब उनकी स्थिति बेहतर है। उम्मीद है कि एक या दो दिन में उन्हें घर जाने की अनुमति दे दी जाएगी।’

उन्होंने कहा, ‘उनकी स्थिति में सुधार हो रहा है और उनके आवश्यक अंग ठीक से काम कर रहे हैं। उन्हें आहार विशेषज्ञ के निर्देश पर भोजन दिया गया। उन्हें और आराम की जरूरत है।’ 75 वर्षीय अन्ना हजारे को खांसी, पेट में अम्लता एवं कमजोरी की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) से अपने समर्थकों के लिए जारी एक संदेश में अन्ना ने कहा, ‘मैं ठीक हो रहा हूं और जनवरी में कार्यकर्ताओं से मिलूंगा। जैसा कि पहले से तय है, मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों को जागरूक करने के लिए देशभर का दौरा करूंगा।’

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड Others
 
Image Loading

अलार्म से नहीं खुलती संता की नींद
संता बंता से: 20 सालों में, आज पहली बार अलार्म से सुबह-सुबह मेरी नींद खुल गई।
बंता: क्यों, क्या तुम्हें अलार्म सुनाई नहीं देता था?
संता: नहीं आज सुबह मुझे जगाने के लिए मेरी बीवी ने अलार्म घड़ी फेंक कर सिर पर मारी।