शुक्रवार, 24 अक्टूबर, 2014 | 23:34 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    नरेंद्र मोदी की चाय पार्टी में नहीं शामिल होंगे उद्धव ठाकरे भूपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें  कालेधन पर राम जेठमलानी ने बढ़ाई सरकार की मुश्किलें जमशेदपुर से लश्कर का आतंकवादी गिरफ्तार  कोई गैर गांधी भी बन सकता है कांग्रेस अध्यक्ष: चिदंबरम भाजपा के साथ सरकार के लिए उद्धव बहुत उत्सुक: अठावले रांची : एंथ्रेक्स ने ली सात लोगों की जान, 8 गंभीर हालत में भर्ती भारत-पाक तनाव के लिये भारत जिम्मेदार : बिलावल भुट्टो अमेरिकी विदेश विभाग में पहली बार मनी दीवाली एनआईए प्रमुख ने बर्दवान विस्फोट की जांच का जायजा लिया
मुलायम ने मांगा मुसलमानों के लिए आरक्षण
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:17-12-12 08:17 PMLast Updated:18-12-12 10:09 AM
Image Loading

सरकारी नौकरियों में काम कर रहे अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को पदोन्नति में आरक्षण दिए जाने के विरोध के कारण अलग-थलग पड़ी समाजवादी पार्टी के प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को कहा कि सरकार को मुसलमानों को आरक्षण देने की दिशा में काम करना चाहिए। मुलायम ने यह धमकी भी दी कि पदोन्नति में आरक्षण आया तो वह संप्रग को समर्थन के बारे में विचार करेंगे।

संसद परिसर में इस बाबत सवाल पूछे जाने पर मुलायम ने कहा कि हम समर्थन जारी रखने के बारे में विचार करेंगे। उनकी टिप्पणी ऐसे समय आई है, जब राज्यसभा में आज उनकी पार्टी ने संविधान संशोधन के जरिए मुसलमानों को आनुपातिक आरक्षण दिए जाने की मांग उठाई। सपा के इस कदम को अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को पदोन्नति में आरक्षण दिए जाने के कदम की काट के रूप में देखा जा रहा है।

सच्चर समिति की रिपोर्ट का हवाला देते हुए मुलायम ने कहा कि मुस्लिम समुदाय की स्थिति अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के लोगों से बदतर है इसलिए उन्हें आरक्षण मिलना चाहिए और इसका कोई विकल्प नहीं है। उनके खिलाफ चल रही सीबीआई जांच के परिप्रेक्ष्य में पूछे गए एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह किसी भी दबाव में नहीं आएंगे।

 
 
 
 
टिप्पणियाँ