मंगलवार, 01 सितम्बर, 2015 | 01:18 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
शिवानंद की भागवत पर टिप्पणी पर भाजपा को आपत्ति
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:07-01-2013 10:35:41 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM

जदयू के एक नेता द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत की तुलना एमआईएम नेता अकबरुद्दीन ओवैसी से किये जाने पर भाजपा ने कड़ी आपत्ति जतायी और मांग की कि जदयू संयम का परिचय दे।

जदयू महासचिव एवं प्रवक्ता शिवानंद तिवारी ने आज कहा कि भागवत और ओवैसी एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। उनसे भागवत की इस कथित टिप्पणी के बारे में पूछा गया था कि महिलाएं घर की देखभाल करने के लिए अपने पति के साथ बंधन में बंधी हैं।

तिवारी ने कहा कि यह आदिमानव वाली मानसिकता है। वे प्राचीन काल को पुनर्जीवित कर रहे हैं । भागवत के संगठन का दर्शन यह है कि ऊंची जाति के लोगों के साथ बैठने के लिए निचली जाति के लोगों को दंडित किया जाना चाहिए और यदि वह संस्कृत सुनता है तो उसके कानों में पिघला सीसा डाल देना चाहिए।

तिवारी की इस टिप्पणी की भाजपा और संघ ने आलोचना की । भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रवि शंकर प्रसाद ने तिवारी के बयान पर गहरा अफसोस व्यक्त करते हुए कहा कि हम ऐसी निराधार, प्रमाणरहित और अभद्र टिप्पणी की निन्दा करते हैं । ओवैसी की तुलना भागवत से करने संबंधी तिवारी की टिप्पणी निन्दनीय है ।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingललित मोदी माल्टा में, हो सकती है गिरफ्तारी
पूर्व आईपीएल कमिश्नर ललित मोदी के माल्टा में होने की खबर है। एक समाचार चैनल के मुताबिक उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जा सकता है। ललित के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कार्नर नोटिस जारी कर रखा है।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

कहां रखें पैसे
पत्नी: मैं जहां भी पैसा रखती हूं हमारा बेटा वहां से चुरा लेता है। मेरी समझ नहीं आ रहा कि पैसे कहां रखूं?
पति: पैसे उसकी किताबों में रख दो, वो उन्हें कभी नहीं छूता।