रविवार, 30 अगस्त, 2015 | 07:02 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
मुसलमानों को आरक्षण के लिए सपा का हंगामा
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:17-12-2012 12:23:57 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

सरकारी नौकरियों में मुसलमानों को आरक्षण दिए जाने की मांग को लेकर समाजवादी पार्टी के सदस्यों के हंगामे के कारण राज्यसभा की बैठक शुरू होने के कुछ ही देर बाद आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी गई।
   
सदन की बैठक शुरू होने पर सभापति हामिद अंसारी ने जैसे ही प्रश्नकाल शुरू करने का ऐलान किया, सपा के नेता रामगोपाल यादव ने कहा कि सरकारी नौकरियों में मुसलमानों को आरक्षण दिए जाने पर चर्चा के लिए उन्होंने प्रश्नकाल स्थगित करने का नोटिस दिया है।
   
यादव ने कहा कि मुसलमानों की हालत आज दलितों से भी ज्यादा खराब है। देश में मुसलमानों की स्थिति का पता लगाने के लिए गठित सच्चर समिति की रिपोर्ट में भी यह बात कही गई है।

उन्होंने कहा कि जब दलितों के उत्थान के लिए संविधान में संशोधन कर सरकारी नौकरियों में उन्हें पदोन्नति में आरक्षण दिया जा सकता है तो मुसलमानों को सरकारी नौकरियों में आरक्षण क्यों नहीं दिया जा सकता।
   
सभापति ने उनसे कहा कि वह यह मुद्दा शून्यकाल में उठाएं और अभी प्रश्नकाल चलने दें। लेकिन यादव नहीं माने और प्रश्नकाल स्थगित कर मुसलमानों को सरकारी नौकरियों में आरक्षण देने पर चर्चा के लिए मांग करते रहे। उनकी पार्टी के नरेश अग्रवाल ने कहा कि यह गंभीर विषय है और इसे टाला नहीं जा सकता।
   
भाजपा सदस्यों ने यादव की मांग का विरोध किया।
   
अंसारी ने कहा कि यह मुद्दा शून्यकाल में उठाया जा सकता है। इसी बीच सपा सदस्य सच्चर समिति की रिपोर्ट लागू करो के नारे लगाते हुए आसन के समीप आ गए। अंसारी ने उनसे अपने स्थानों पर लौट जाने को कहा। लेकिन हंगामा थमते न देख उन्होंने बैठक आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingगावस्कर ने पुजारा की तारीफों के पुल बांधे
अपनी अच्छी तकनीक और शांत चित के कारण चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर अपने पांव जमाने में माहिर हैं और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस युवा बल्लेबाज की आज जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने नाबाद शतक से भारत को संकट से उबारा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!