शनिवार, 31 जनवरी, 2015 | 14:03 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
अमरोहा: जोया से संभल जा रही बस डब्ल्यूटीएम कालेज के पास पलटी। घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाना शुरु। अब तक तीस घायल अस्पताल पहुंचे। ट्रक को ओवरटेक करते समय हुआ हादसा।ऑटोवालों की समस्या दूर करेंगे, नए स्टैंड बनाएंगे, हर साल किराए की समीक्षा करेंगे : केजरीवालव्यापारियों को मान-सम्मान मिलेगा, व्यापार करने की आजादी मिलेगी : केजरीवाल900 हेल्थ सेंटर खोलेंगे : केजरीवालदिल्ली को कारोबार का हब बनाएंगे : केजरीवालदिल्ली में वैट का रेट सबसे कम करेंगे, जिससे महंगाई कम होगी और टैक्स चोरी भी नहीं होगी : केजरीवालदिल्ली के गांवों को बसों और मेट्रो से जोड़ेंगे: केजरीवालसरकारी अस्पतालों का प्रशासन सुधारेंगे, डॉक्टरों को सम्मान और सुरक्षा देंगे: केजरीवालपांच साल में यमुना को खूबसूरत बनाएंगे, उद्योगों का कचरा डालना बंद करवाएंगे: केजरीवालपानी के लिए दूसरे राज्यों के आगे हाथ फैलाना बंद करेंगे: केजरीवाल5 साल में हर घर में पानी की पाइप लाइन पहुचाएंगे : केजरीवाल24 घंटे बिजली देंगे, आधे दाम पर देंगे : केजरीवालधीरे-धीरे दिल्ली को सोलर एनर्जी की ओर लेकर जाएंगे : केजरीवाल
सामूहिक बलात्कार की पीड़िता ने पूछा, क्या वे पकड़े गए
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:20-12-12 09:21 PM
Image Loading

राजधानी दिल्ली में रविवार की रात चलती बस में सामूहिक बलात्कार एवं वीभत्स हमले का शिकार बनी एक 23 वर्षीय पैरा-मेडिकल छात्रा ने गुरुवार को अस्पताल में मिलने आए परिवार के सदस्यों से पूछा, क्या वे पकड़े गए।

सूत्रों ने बताया कि मुंह में ट्यूब लगे होने के कारण बोल पाने में अक्षम यह छात्रा कागज पर लिख कर अपनी बात कह रही है। उन्होंने बताया कि इस छात्रा को पता है कि उसका मामला मीडिया में आ चुका है। उसने अपने परिवार से पूछा कि क्या आरोपी पकड़े गए हैं।

ऐसी जानकारी मिली है कि छात्रा का परिवार मीडिया का आभारी है, लेकिन अपनी पहचान को सार्वजनिक नहीं होने देना चाहता है। इस छात्रा ने कल अपनी मां से कहा था, मैं जीना चाहती हूं।

इससे पहले छात्रा का इलाज कर रहे सफदरजंग अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि वह अब स्थिर, चौकस और होश में है। चिकित्सकों को उसके पेट का ऑपरेशन कर उसकी छोटी आंत निकालनी पड़ी जो बिल्कुल क्षत विक्षत थी।

सफदरजंग अस्पताल के स्वास्थ्य अधीक्षक डॉ़ बी डी अथानी ने बताया कि एलेक्टिव एक्सप्लोरेटरी लैपराटोमी के बाद की रात शांत रही। सुबह में उसकी हालत स्थिर थी। वह अब भी आईसीयू में जीवनरक्षक प्रणाली पर है। उसके रक्तचाप, पेशाब, सांस लेने की गति जैसे महत्वपूर्ण मानदंड स्वीकार्य दायरे के भीतर हैं ।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड