शनिवार, 25 अक्टूबर, 2014 | 23:44 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
अकाली नेता ने हत्या की, थाना प्रभारी बर्खास्त
अमृतसर, एजेंसी First Published:06-12-12 09:53 PM

पंजाब पुलिस ने सत्तारुढ़ शिरोमणी अकाली दल के एक नेता द्वारा सहायक पुलिस उप निरीक्षक (एएसआई) की हत्या करने के मामले में कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने के आरोप में थाना प्रभारी को बर्खास्त कर दिया।

अकाली दल की अमृतसर इकाई का महासचिव रंजीत सिंह राणा ने अपने साथियों के साथ बेटी के साथ छेड़खानी का विरोध करने पर एएसआई रविंदर पाल सिंह की हत्या कर दी थी। राणा एवं उसके साथी एएसआई की बेटी को पिछले कुछ दिनों से परेशान कर रहे थे।

पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी ने कहा कि बुधवार को घटना के बाद पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की और प्रमुख आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और तीन लाइसेंसी हथियार जब्त कर लिया।

उन्होंने स्वीकार किया कि छेहराता थाने के प्रभारी ने लापरवाही का परिचय दिया और उन्हें सेवा से बर्खास्त करने का निर्णय लिया गया।

सैनी ने कहा कि एएसआई की पुत्री ने कई बार छेड़खानी की शिकायत पुलिस स्टेशन में की थी लेकिन थाना प्रभारी ने कोई कार्रवाई नहीं की। थाना प्रभारी को बुधवार को निलम्बित कर दिया गया था।

पुलिस आयुक्त राम सिंह के मुताबिक मुख्य अपराधी रंजीत सिंह राणा और उसके साथी को सीमावर्ती जिले अमृतसर से गिरफ्तार किया गया। राणा पिछले कुछ दिनों से उप-निरीक्षक रविंदर पाल सिंह की बेटी को परेशान कर रहा था।

पुलिस के मुताबिक रविंदर की हत्या के दो अन्य आरोपी अभी फरार हैं। यह घटना अमृतसर के बाहरी इलाके में स्थित छेहराता थाने के नजदीक हुई।

रविंदर ने कुछ लड़कों द्वारा अपनी बेटी को परेशान किए जाने का विरोध किया। बहस केदौरान राणा ने रविंदर और उनकी बेटी पर गोली चला दी जिसमें दोनों जख्मी हो गए थे।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक राणा और उसके साथी घटनास्थल पर जीप से वापस आए और रविंदर के छाती पर काफी करीब से गोली दाग दी।

रविंदर को फौरन निजी अस्पताल ले जाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। राणा अकाली दल की अमृतसर इकाई का महासचिव था जिसे पार्टी ने निष्कासित कर दिया गया है।
 
 
 
टिप्पणियाँ