मंगलवार, 04 अगस्त, 2015 | 10:55 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
अमरोहा के हसनपुर में रहरा अड्डे पर स्थित परचून की दुकान के ताले तोड़कर चार लाख का सामान समेटा, पुलिस मौके पर
संसद में बेटे का पहला भाषण देखकर गदगद हुए राष्ट्रपति
शांतिनिकेतन, पश्चिम बंगाल, एजेंसी First Published:19-12-2012 04:31:04 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के लिए एक पिता के तौर यह गौरवांवित महसूस करने का पल था, जब उन्होंने बेटे को संसद में कंपनी विधेयक पर पहला भाषण देते हुए देखा।

अपने बेटे अभिजीत का लोकसभा में पहला भाषण पूरा होने पर मुखर्जी के चेहरे पर मुस्कान देखते ही बन रही थी। लोकसभा में कंपनी विधेयक मंगलवार को पारित हुआ।

राष्ट्रपति ने बांग्ला भाषा में कहा कि अच्छा बोला। सशक्त रूप से अपना नजरिया पेश किया। दो दिन के दौरे पर यहां आए राष्ट्रपति ने सदन की पूरी कार्यवाही देखी, जब अभिजीत ने शुद्ध लाभ की परिभाषा और कारपोरेट सामाजिक दायित्व के उद्देश्य की गणना के तरीके पर स्पष्टीकरण मांगा।

अभिजीत जंगीपुर सीट से सांसद चुने जाने से पहले सेल में महाप्रबंधक थे। लोकसभा ने बहुप्रतीक्षित संसोधनों के साथ कंपनी विधेयक 2011 को मंजूरी देते हुए लाभ कमाने वाली कंपनियों के लिए सीएसआर से संबंधित क्रियाकलाप पर खर्च करने को अनिवार्य कर दिया है।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingश्रीलंका में जीत के लिए ये है कोहली का मास्टर प्लान
टेस्ट कप्तान के तौर पर अपनी पहली संपूर्ण तीन मैचों की सीरीज के लिये श्रीलंका दौरे पर भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे विराट कोहली ने कहा है कि उनकी योजना श्रीलंका में पांच गेंदबाजों को उतारने की रहेगी।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब बीमार पड़ा संता...
जीतो बीमार पति से: जानवर के डॉक्टर को मिलो तब आराम मिलेगा!
संता: वो क्यों?
जीतो: रोज़ सुबह मुर्गे की तरह जल्दी उठ जाते हो, घोड़े की तरह भाग के ऑफिस जाते हो, गधे की तरह दिनभर काम करते हो, घर आकर परिवार पर कुत्ते की तरह भोंकते हो, और रात को खाकर भैंस की तरह सो जाते हो, बेचारा इंसानों का डॉक्टर आपका क्या इलाज करेगा?