शनिवार, 29 अगस्त, 2015 | 22:27 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
झारखंडः गिरती ट्रेन देखने की चाहत में बच्चों ने खोल दी पटरियों की क्लिप।मुम्बई पुलिस ने शीना बोरा हत्याकांड में सभी तीनों आरोपियों का कॉल डाटा रिकार्ड मांगा है।शीना बोरा हत्या कांड में पुलिस कर रही है इंद्राणी मुखर्जी के बेटे मिखाइल बोरा से उपनगरीय बांद्रा के एक होटल में पूछताछ।हमें यदि 8 से 10 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि हासिल करनी है तो धन की लागत को कम करना होगा: वित्त मंत्री अरुण जेटली।अटकी पड़ी परियोजनाओं में तेजी लानी है, ये मेक इन इंडिया कार्यक्रम की अगुवाई करेंगी: जेटली।
राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में पहुंच सकेंगे आम आदमी भी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:08-12-2012 03:30:58 PMLast Updated:00-00-0000 12:00:00 AM
Image Loading

राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में अब हर शनिवार को 200 लोग सेना के जवानों की एक टुकड़ी द्वारा दूसरी टुकड़ी को दायित्व सौंपे जाने की भव्य परंपरा चेंज ऑफ गार्ड देख सकेंगे।

चेंज ऑफ गार्ड के दौरान राष्ट्रपति के अंगरक्षकों की एक टुकड़ी घोड़ों पर सवार हो कर बैंड के साथ अपना दायित्व दूसरी टुकड़ी को सौंपती है। राष्ट्रपति भवन की भव्यता और गरिमा का अहसास कराने वाले उसके गुम्बद की पृष्ठभूमि में होने वाला यह आयोजन अब नए रूप में, सैन्य अभ्यास के साथ होगा।

राष्ट्रपति के प्रेस सचिव वेणु राजमोनी ने आज यहां संवाददाताओं को बताया कि हमने चेंज ऑफ गार्ड समारोह को लेकर लगी हर तरह की रोक हटाने का फैसला किया है। अब हर शनिवार को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण के लॉन में करीब 200 लोग आ कर इसका आनंद ले सकेंगे। यह बदलाव राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के कहने पर किया गया है। वह चाहते हैं कि इस जगह को आम आदमी के लिए भी खोला जाना चाहिए।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
Image Loadingगावस्कर ने पुजारा की तारीफों के पुल बांधे
अपनी अच्छी तकनीक और शांत चित के कारण चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर अपने पांव जमाने में माहिर हैं और पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी इस युवा बल्लेबाज की आज जमकर तारीफ की जिन्होंने अपने नाबाद शतक से भारत को संकट से उबारा।
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड
 
Image Loading

जब संता के घर आए डाकू...
आधी रात को संता के घर डाकू आए।
संता को जगाकर पूछा: यह बताओ कि सोना कहां है?
संता (गुस्से से): इतना बड़ा घर है कहीं भी सो जाओ। इतनी छोटी बात के लिए मुझे क्यों जगाया!