शनिवार, 20 दिसम्बर, 2014 | 19:07 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
आरएसएस के सह सर कार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल के पिता का नोएडा में निधनहिन्दुस्तान: जामताडा में 71 प्रतिशत और नाला विधानसभा क्षेञ में 74 प्रतिशत मतदान की सूचनाजम्मू कश्मीर में 3 बजे तक 55% मतदानइंडिया टुडे और सिसेरो का एग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को बहुमत के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार के आसारएग्जिट पोल: झारखंड में कांग्रेस को 16 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में जेएमएम को 20 % प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: झारखंड में बीजेपी को 36% प्रतिशत वोट मिलने का अनुमानएग्जिट पोल: कांग्रेस को 7-11, बीजेपी 41-49, जेएमएम 15-19, अन्य 8-12 सीटों पर जीत मिलने की संभावनाएग्जिट पोल: झारखंड में पहली बार बहुमत की सरकार बनने के आसारअगर आपको धर्मांतरण से एतराज है तो धर्मांतरण के खिलाफ संसद में कानून लाइए: मोहन भागवतझारखंड विधानसभा के पांचवें और आखिरी चरण के मतदान का समय खत्म हो गया है।जम्मू: कठुआ जिले में सीमवर्ती निर्वाचन क्षेत्र हीरानगर में महिला मतदाताओं की संख्या, पुरुष मतदाताओं से अधिक रही। कठुआ जिले के दूर-दराज के बानी और बिलावर निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान प्रक्रिया की शुरुआत धीमी रही।जम्मू: राजौरी जिले की राजौरी, दारहल, कालकोट और नौशेरा में भी सुबह के समय मतदान प्रक्रिया सुस्त रही।
प्रयाग महाकुम्भ: आस्था का मेला लेने लगा आकार
लखनऊ, एजेंसी First Published:09-12-12 10:09 AM
Image Loading

उत्तर प्रदेश की प्रयाग नगरी (इलाहाबाद) में संगम की पावन धरती पर अगले महीने होने वाले महाकुम्भ की तैयारियां जोरों पर है। विश्व में आस्था एवं श्रद्धा का सबसे बड़ा केंद्र माने जाना वाला महाकुम्भ मेला अब धीरे-धीरे आकार लेने लगा है।

महाकुम्भ मेला परिक्षेत्र में सनातन धर्म की ध्वजाएं लहराने लगी हैं। करीब पौने पांच हजार एकड़ में बना मेला परिक्षेत्र में अब साधु-संतों और अखाड़ों के धर्माचार्यो का आगमन शुरू हो गया है। विभिन्न अखाड़ों के लिए आवंटित जगहों पर भूमि पूजन शुरू हो गया है।

महाकुम्भ मेले में जूना, आह्वान और अग्नि अखाडेम् ने अपनी-अपनी जगहों पर अभी से पूजा-पाठ शुरू कर दिया है।

मेला प्रशासन से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी की मानें तो महाकुम्भ में करोड़ों श्रद्धालुओं की आमद होनी है और उसी लिहाज से तैयारियां चल रही हैं। अखाड़ों के अलग-अलग शिविर भी बनने शुरू हो गए हैं।

अधिकारी बताते हैं कि शुक्रवार को बड़ा उदासीन और पंचायती अखाडेम् से जुड़े साधु-संतों ने विधि-विधान से भूमि पूजन सम्पन्न करवाया। अखाड़ों का भूमि पूजन वैदिक रीति से सम्पन्न हुआ।

प्रयाग नगरी में लगने वाले महाकुम्भ में एक तरफ  जहां साधु-संतों ने अपनी तैयारियों को रफ्तार देनी शुरू कर दी है, वहीं दूसरी ओर प्रशासनिक स्तर पर काफी हीला-हवाली भी देखने को मिल रही है। मेला परिक्षेत्र में लोक निर्माण विभाग का काम सबसे सुस्त है। संगम की ओर जाने वाली सड़कों का अब तक कायाकल्प नहीं हो पाया है। शहर की सड़कों को तैयारियों के नाम पर फिलहाल खोद डाला गया है। सड़क बनाने का काम धीमी गति से चल रही है।

लोक निर्माण विभाग से जुड़े एक अधिकारी स्वीकार करते हैं कि तैयारियों की गति थोड़ी कम जरूर है लेकिन उन्होंने उम्मीद जताई कि समय रहते इसे पूरा कर लिया जाएगा।

लोक निर्माण विभाग से इतर बिजली विभाग की बात करें तो पूरे मेला परिक्षेत्र में चारों तरफ विद्युतीकरण का काम तेजी से चल रहा है।

तैयारियों की बाबत पूछे जाने पर मेला अधिकारी एम. पी. मिश्र ने केवल इतना ही कहा कि सभी तैयारियां समय रहते पूरी कर ली जाएंगी।

 
 
 
टिप्पणियाँ
 
क्रिकेट स्कोरबोर्ड