रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 01:11 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
केरल में निवेश करें अनिवासी भारतीय : व्यालार
कोच्चि, एजेंसी First Published:09-01-13 05:43 PM

प्रवासी भारतीय मामलों के केंद्रीय मंत्री व्यालार रवि ने बुधवार को अनिवासी भारतीयों (एनआरआई) से आग्रह किया कि वे केरल में निवेश करने के बारे में गम्भीरता से सोचें।

रवि ने कहा, ''वे दिन बीत गए हैं, जब केरल में रोज-रोज श्रमिकों की समस्या की खबर आया करती थी। मैं और मुख्यमंत्री ओनम चांडी ट्रेड यूनियन के जुझारू नेता थे। वे पुराने दिन थे और आज केरल में औद्योगिक विवाद नहीं है। मैं आप सभी से अपील करता हूं कि केरल में निवेश करने के बारे में गम्भीरता से सोचें।''

रवि ने बुधवार को 11वें प्रवासी भारतीय दिवस के मौके पर यहां केरल सत्र में उपस्थित धनाढय़ प्रवासियों के बीच यह बात कही।

उन्होंने कहा, ''मैं आप सभी से अनुरोध करता हूं कि जिनके मन में भी केरल में निवेश करने की इच्छा है, वे चांडी से बात करें।'' रवि सैम पित्रोदा के ठीक बाद बोल रहे थे।

पित्रोदा ने कहा, ''हमने कई परियोजनाओं की सूची बनाई है, जैसे, दो ज्ञान शहर, राज्य में एक जलमार्ग और पारम्परिक उद्योगों का समूह। इन सभी में निवेश की जरूरत है।''
 
 
 
टिप्पणियाँ