गुरुवार, 30 अक्टूबर, 2014 | 20:40 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    सिख दंगा पीड़ितों के परिजनों को पांच लाख देगा केंद्र अपमान से आहत शिवसेना ने किया फडणवीस के शपथ ग्रहण का बहिष्कार सरकार का कटौती अभियान शुरू, प्रथम श्रेणी यात्रा पर प्रतिबंध बेटे की दस्तारबंदी के लिए बुखारी का शरीफ को न्यौता, मोदी को नहीं कालेधन मामले में सभी दोषियों की खबर लेगा एसआईटी: शाह एनसीपी के समर्थन देने पर शिवसेना ने उठाये सवाल 'कम उम्र के लोगों की इबोला से कम मौतें'  श्रीलंका में भूस्खलन में 100 से अधिक लोग मरे स्वामी के खिलाफ मानहानि मामले की सुनवाई पर रोक मायाराम को अल्पसंख्यक मंत्रालय में भेजा गया
धुले में गोलीबारी में मरने वालों की संख्या हुई चार
मुंबई, एजेंसी First Published:07-01-13 02:28 PM

धुले में पुलिस की गोलीबारी में मरने वालों की संख्या बढ़ कर चार हो गई है। पुलिस के अनुसार, दो समुदायों में हिंसक संघर्ष के बाद उत्तरी महाराष्ट्र के धुले शहर में स्थिति अब सामान्य है।

पुलिस ने बताया कि हिंसा में एक किशोर सहित चार लोगों की मौत हो गई और करीब 200 लोग घायल हुए हैं। सात घायलों की हालत गंभीर बताई जाती है।
   
पुलिस महानिदेशक कार्यालय में विशेष महानिरीक्षक देवेन भारती ने कहा 18 साल के एक लड़के सहित चार लोगों की जान जा चुकी है। धुले में स्थिति कल से नियंत्रण में है। कल शाम पुलिस ने माची बाजार इलाके में कर्फ्यू लगाया था। यहीं हिंसा हुई थी। कर्फ्यू आज भी जारी है और पुलिस का कहना है कि स्थिति का आकलन करने के बाद वह कर्फ्यू हटाने के बारे में फैसला करेगी।
   
धुले पुलिस ने संपत्ति नष्ट करने और लोक सेवकों को हिंसा रोकने के उनके दायित्व में बाधा पहुंचाने के आरोप में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
   
कल मामूली बात को लेकर दो समुदायों के सदस्यों के बीच संघर्ष शुरू हो गया और मच्छीबाजार तथा माधवपुरा इलाकों में तनाव फैल गया। माधवपुरा इलाके में हालात काबू में करने के लिए पुलिस ने गोली चलाई, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई।
   
पुलिस के अनुसार, संघर्ष चार व्यक्तियों के एक समूह द्वारा एक होटल के बिल का भुगतान न करने पर शुरू हुआ। उन्होंने होटल के कर्मियों को पीटा और चले गए। कुछ देर बाद ये लोग अपने साथ कुछ और लोगों को लेकर आए और हिंसा शुरू हो गई।

 
 
 
टिप्पणियाँ