सोमवार, 06 जुलाई, 2015 | 10:35 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    आयुध फैक्टरियों में 67 हजार पदों को भरने की प्रक्रिया जल्द होगी शुरू दिल्ली: सवा सौ साल पुराना जर्जर पुल अब बनेगा ऐतिहासिक विरासत खुशखबरी: वेस्ट यूपी में 500 जगहों को वाईफाई करेगा बीएसएनएल यूपी: चलती गाड़ी में छात्रा के साथ रेप के बाद रेलवे स्टेशन पर फेंका पहले दिया संवेदनहीन बयान, अब पत्रकार अक्षय के घर जाएंगे कैलाश विजयवर्गीय पत्रकार अक्षय के विसरा जांच एम्स में होगी, परिवार की मांग मंजूर अक्षय की मौत स्वाभाविक नहीं, व्यापमं गिरोह ने की हत्या: भूरिया पाकिस्तान ने किया संघर्षविराम का उल्लंघन, बीएसएफ जवान शहीद लालू की हैसियत महुआ रैली में उजागर, नीतीश को पक्का मारेंगे लंगड़ीः पासवान एयरइंडिया के यात्री ने की खाने में मक्खी की शिकायत
मनमोहन के बाद अब शीला पर बरसा सोशल मीडिया
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:29-12-12 09:18 PM
Image Loading

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अभी ठीक है टिप्पणी कर सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचनाओं का शिकार बने ही थे कि अगली बारी दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की थी। सामूहिक बलात्कार की शिकार युवती की मौत पर अपने बयान के अंत में शीला ने भी प्रधानमंत्री जैसी टिप्पणी कर दी। सिंगापुर के एक अस्पताल में युवती के निधन पर शोक जताते हुए शीला ने संवाददाताओं के समक्ष बयान पढ़ने के बाद कहा कि इट्स ओके (ठीक है)।

किसी रिकार्डिंग के बाद इस तरह की टिप्पणी आम बात है, लेकिन सोशल नेटवकिग साइट टि्वटर पर लोगों ने शीला की टिप्पणी पर आपत्ति की है। एक ट्वीट में कहा गया कि शीला ने वही कर दिया जो प्रधानमंत्री ने किया (सीएम डज अ पीएम)।

एक अन्य ट्वीट में कहा गया कि शीला दीक्षित को बालीवुड में हाथ आजमाना चाहिए। युवती की मौत पर बयान के बाद उन्होंने कहा कि इज इट ओके (क्या यह ठीक है)। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष विजेन्दर गुप्ता ने यह कहते हुए शीला की आलोचना की कि इससे एक त्रासदी पर उनकी संवेदनहीनता का पता चलता है। यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है।
 
भाकपा राष्ट्रीय सचिव डी राजा ने भी इस टिप्पणी के लिए शीला की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा पाए लोगों को अधिक मानवीय होना चाहिए। दिल्ली सामूहिक बलात्कार घटना पर राष्ट्र के नाम टेलीविजन पर दिए संदेश के समाप्त होने पर प्रधानमंत्री ने पूछताछ वाले अंदाज में टिप्पणी की थी, ठीक है इसकी सोशल मीडिया में जमकर आलोचना हुई।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड