शुक्रवार, 31 अक्टूबर, 2014 | 23:54 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
ब्रेकिंग
विद्या प्रकाश ठाकुर ने भी राज्यमंत्री पद की शपथ लीदिलीप कांबले ने ली राज्यमंत्री पद की शपथविष्णु सावरा ने ली मंत्री पद की शपथपंकजा गोपीनाथ मुंडे ने ली मंत्री पद की शपथचंद्रकांत पाटिल ने ली मंत्री पद की शपथप्रकाश मंसूभाई मेहता ने ली मंत्री पद की शपथविनोद तावड़े ने मंत्री पद की शपथ लीसुधीर मुनघंटीवार ने मंत्री पद की शपथ लीएकनाथ खड़से ने मंत्री पद की शपथ लीदेवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
संसद के बजट सत्र में पारित होगा लोकपाल विधेयक!
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:04-01-13 02:18 PM
Image Loading

सरकार ने कहा है कि लोकपाल विधेयक पर संसदीय समिति की अधिकतर सिफारिशों को स्वीकार कर लिया गया है और संसद के बजट सत्र में यह विधेयक पारित करने के लिए लाया जा सकता है।
   
प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री वी नारायणसामी ने यहां बताया कि संशोधित विधेयक को पहले केन्द्रीय मंत्रिमंडल में मंजूर किया जाएगा और उसके बाद संसद में लाया जाएगा।
   
नारायणसामी ने कहा कि संसद के बजट सत्र में इसे लाए जाने की संभावना है। समिति के अधिकतर विचारों पर सहमति बन गई है।
   
सरकार की असहमति वाले बिन्दुओं के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा वह बहुत गौण बिन्दु हैं। उन्होंने कहा कि कैबिनेट द्वारा इस पर विचार किए जाने से पहले मैं इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं कह सकता हूं।
   
लोकसभा द्वारा 2011 में पारित भ्रष्टाचार निरोधी लोकपाल विधेयक के कई प्रावधानों को राज्यसभा में विरोध का सामना करना पड़ा। इनमें राज्यों द्वारा लोकायुक्तों की नियुक्ति को अनिवार्य बनाने वाले प्रावधान का सबसे कड़ा विरोध हुआ। कई दलों ने कहा कि यह देश की संघीय व्यवस्था के अनुरूप नहीं है।
   
विधेयक पर तीखे मतभेद उभरने पर इसे अवर समिति को भेज दिया गया। समिति ने पिछले साल नवंबर में अपनी सिफारिशें उच्च सदन के पटल पर रख दी थीं।
   
राज्यसभा में लोकपाल विधेयक के पारित हो जाने के बाद इसे फिर से लोकसभा को भेजा जाएगा, ताकि संशोधित प्रारूप को मंजूरी मिल सके।

 
 
 
टिप्पणियाँ