रविवार, 26 अक्टूबर, 2014 | 08:22 | IST
  RSS |    Site Image Loading Image Loading
Image Loading    राजनाथ सोमवार को मुंबई में कर सकते हैं शिवसेना से वार्ता नरेंद्र मोदी ने सफाई और स्वच्छता पर दिया जोर मुंबई में मोदी से उद्धव के मिलने का कार्यक्रम नहीं था: शिवसेना  कांग्रेस ने विवादित लेख पर भाजपा की आलोचना की केन्द्र ने 80 हजार करोड़ की रक्षा परियोजनाओं को दी मंजूरी  कांग्रेस नेता शशि थरूर शामिल हुए स्वच्छता अभियान में हेलमेट के बगैर स्कूटर चला कर विवाद में आए गडकरी  नस्ली घटनाओं पर राज्यों को सलाह देगा गृह मंत्रालय: रिजिजू अश्विका कपूर को फिल्मों के लिए ग्रीन ऑस्कर अवार्ड जम्मू-कश्मीर और झारखंड में पांच चरणों में मतदान की घोषणा
रहमान मलिक दिल्ली पहुंचे, नई वीजा व्यवस्था लागू होगी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:14-12-12 09:48 PMLast Updated:14-12-12 09:48 PM
Image Loading

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री रहमान मलिक शुक्रवार को तीन दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे। मलिक के दौरे की लम्बे समय से चर्चा चल रही थी। इस दौरान उस उदार वीजा व्यवस्था के क्रियान्वयन की सम्भावना है, जिस पर सितम्बर में दोनों देशों के बीच सहमति बनी थी।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आर.पी.एन. सिंह ने यहां पालम हवाई अड्डे पर मलिक की अगवानी की।

दोनों देशों के बीच उदार वीजा नीति पर तत्कालीन विदेश मंत्री एस.एम. कृष्णा और मलिक के बीच आठ सितम्बर को इस्लामाबाद में समझौता हुआ था। इस वीजा समझौते के अब क्रियान्वित होने की सम्भावना है।

12 वर्ष से कम तथा 65 वर्ष से अधिक उम्र वर्ग के लोगों को तथा व्यापारियों को पुलिस रिपोर्टिग से छूट नए समझौते की खासियतों में शामिल है। यह वीजा समझौता ऐसे समय में क्रियान्वित होने जा रहा है, जब पाकिस्तान-भारत के बीच क्रिकेट श्रृंखला होने वाली है। इसके तहत 25 दिसम्बर से भारत में तीन एक दिवसीय और दो ट्वेंटी-20 मैच खेले जाने हैं।

अधिकारियों के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे मलिक के साथ द्विपक्षीय बातचीत करेंगे।

शिंदे बातचीत के दौरान मुम्बई हमले के आतंकवादियों के सूत्रधारों की आवाज के नमूने सौंपने की पाकिस्तान से मांग कर सकते हैं। वह लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और मुम्बई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को सौंपने के लिए भी दबाव बना सकते हैं।

 अधिकारियों ने कहा कि दोनों पक्ष आतंकवाद से मुकाबला, सीमा प्रबंधन, फर्जी भारतीय नोट और सुरक्षा व जांच एजेंसियों के बीच सहयोग के मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे।

अधिकारियों ने कहा कि मलिक प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज से शनिवार को मुलाकात करेंगे। वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर शिवशंकर मेनन से भी मुलाकात कर सकते हैं।

मलिक के साथ आए सरकारी शिष्टमंडल में आंतरिक मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के सदस्य शामिल हैं।

शिंदे के अलावा बातचीत में आर.पी.एन. सिंह और गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय तथा विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी भी हिस्सा लेंगे।
 
 
 
टिप्पणियाँ