मंगलवार, 28 जुलाई, 2015 | 06:58 | IST
 |  Site Image Loading Image Loading
Image Loading    केजरीवाल ने आडवाणी से मुलाकात की, कई मुद्दों पर की चर्चा पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम नहीं रहे, देश भर में शोक की लहर गुरदासपुर आतंकी हमले के बाद BCCI ने कहा, पाकिस्तान के साथ कोई क्रिकेट संबंध नहीं आरएमएल में आम नहीं 'खास' मरीजों का विशेष ध्यान रखने का आदेश  उप राज्यपाल ने दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल की नियुक्ति पर मुहर लगाई बिहार बंद: लालू सहित कई राजद नेता गिरफ्तार और रिहा किए गए  याकूब की फांसी का विरोध कर फंसे अभिनेता सलमान और सांसद ओवैसी, राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज आईफोन 5 और लूमिया का अहसास देगा एमआई4 आई  सजा के खिलाफ सलमान की अपील पर 30 जुलाई को होगी सुनवाई भारत पर है इन 15 खौफनाक आतंकी संगठनों की नजर
रहमान मलिक दिल्ली पहुंचे, नई वीजा व्यवस्था लागू होगी
नई दिल्ली, एजेंसी First Published:14-12-2012 09:48:08 PMLast Updated:14-12-2012 09:48:09 PM
Image Loading

पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री रहमान मलिक शुक्रवार को तीन दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे। मलिक के दौरे की लम्बे समय से चर्चा चल रही थी। इस दौरान उस उदार वीजा व्यवस्था के क्रियान्वयन की सम्भावना है, जिस पर सितम्बर में दोनों देशों के बीच सहमति बनी थी।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आर.पी.एन. सिंह ने यहां पालम हवाई अड्डे पर मलिक की अगवानी की।

दोनों देशों के बीच उदार वीजा नीति पर तत्कालीन विदेश मंत्री एस.एम. कृष्णा और मलिक के बीच आठ सितम्बर को इस्लामाबाद में समझौता हुआ था। इस वीजा समझौते के अब क्रियान्वित होने की सम्भावना है।

12 वर्ष से कम तथा 65 वर्ष से अधिक उम्र वर्ग के लोगों को तथा व्यापारियों को पुलिस रिपोर्टिग से छूट नए समझौते की खासियतों में शामिल है। यह वीजा समझौता ऐसे समय में क्रियान्वित होने जा रहा है, जब पाकिस्तान-भारत के बीच क्रिकेट श्रृंखला होने वाली है। इसके तहत 25 दिसम्बर से भारत में तीन एक दिवसीय और दो ट्वेंटी-20 मैच खेले जाने हैं।

अधिकारियों के अनुसार, केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे मलिक के साथ द्विपक्षीय बातचीत करेंगे।

शिंदे बातचीत के दौरान मुम्बई हमले के आतंकवादियों के सूत्रधारों की आवाज के नमूने सौंपने की पाकिस्तान से मांग कर सकते हैं। वह लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और मुम्बई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को सौंपने के लिए भी दबाव बना सकते हैं।

 अधिकारियों ने कहा कि दोनों पक्ष आतंकवाद से मुकाबला, सीमा प्रबंधन, फर्जी भारतीय नोट और सुरक्षा व जांच एजेंसियों के बीच सहयोग के मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे।

अधिकारियों ने कहा कि मलिक प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज से शनिवार को मुलाकात करेंगे। वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकर शिवशंकर मेनन से भी मुलाकात कर सकते हैं।

मलिक के साथ आए सरकारी शिष्टमंडल में आंतरिक मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के सदस्य शामिल हैं।

शिंदे के अलावा बातचीत में आर.पी.एन. सिंह और गृह मंत्रालय, विदेश मंत्रालय तथा विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी भी हिस्सा लेंगे।

 
 
 
 
जरूर पढ़ें
क्रिकेट
क्रिकेट स्कोरबोर्ड